अनाज के नाम हिंदी में | Cereals Names In Hindi

किसान खेती करके अनाज पैदा करता है। यह प्राचीन काल से ही मनुष्य का मुख्य खाद्य पदार्थ रहा है। इस लेख Cereals Names In Hindi And English में विभिन्न प्रकार के अनाज के नाम और उनके बारे में संक्षिप्त विवरण दिया गया है। प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट से भरपूर अनाज स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभकारी होता है। तो आइये दोस्तों अनाजों के नाम हिंदी और अंग्रेजी में जानने का प्रयास करते है।

अनाज क्या होता है?

घास फैमिली के पौधों पर लगने वाले सूखे बीज अनाज होते है। ये एकबीजपत्री होते है। इनमें प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट के अलावा विटामिन B, मैग्नीशियम और आयरन भी पाया जाता है। साबुत अनाज में फाइबर अधिक मात्रा में मिलते है। अनाज के दाने के मुख्यतः तीन भाग होते है। पहला चोकर जो बाहरी परत होती है। दूसरा एंडोस्पर्म जो की चोकर के नीचे होता है। तीसरा भाग रोगाणु कहलाता है जो की Cereal grain की आंतरिक परत होती है।

अनाज मुख्यतः साबुत और परिष्कृत दो प्रकार के होते है। साबुत अनाज में दाने के तीनों भाग मौजूद होते है जबकि परिष्कृत में रोगाणु और चोकर भाग नही पाए जाते है।

Cereals names in hindi and english
अनाज के नाम

6 मुख्य अनाज के नाम हिंदी में – Cereals Names In Hindi And English

1. गेंहू (Wheat)

भारत देश में गेंहू खाद्यान्य की मुख्य फसल है। गेंहू को पीसकर आटा बनता है  जिससे रोटी बनाई जाती है। पूरी दुनिया में गेंहू की फसल उत्पादन की दृष्टि से दूसरे नम्बर पर आती है। चीन के बाद भारत गेंहू उत्पादन में दूसरे स्थान पर आता है। भारत में प्रचीन समय से ही यह अनाज उत्पादित किया जा रहा है। भारत में पंजाब, हरियाणा, उत्तरप्रदेश इत्यादि राज्य गेंहू के उत्पादन में अग्रणी है।

गेंहू से रोटी के अलावा दलिया, पास्ता, नूडल्स इत्यादि भी बनते है। गेंहू से बियर भी बनती है। यह अनाज प्रोटीन (Protein) और फाइबर का प्रचुर स्रोत है। प्रोटीन की पूर्ति के लिए गेंहू दैनिक आहार का मुख्य हिस्सा है। Cereals Names की सूची में गेंहू प्रमुखतया से आता है क्यूंकि भारत में भोजन गेंहू से बनी रोटी के बिना अधूरा है।

2. जौ (Barley)

ऐसा माना जाता है कि सबसे पहला कृषि किया गया अनाज जौ है। भारत के अलावा अमेरिका, रूस, यूक्रेन, कनाडा इत्यादि देशों में भी इस अनाज का उत्पादन किया जाता है। जौ में फाइबर अन्य अनाजों के मुकाबले सबसे अधिक होता है। फाइबर के अलावा आयरन और प्रोटीन भी अधिक मात्रा में पाया जाता है। इस अनाज को पीसकर गेंहू की तरह रोटी बनाई जा सकती है। इसे खाने से पाचन तंत्र सही कार्य करता है।

3. चावल (Rice)

यह दुनियाभर में खाया जाने वाला मुख्य खाद्य पदार्थ है। आपकी जानकारी के लिए बता दु की धान के पौधे के बीजों को चावल कहते है। इसकी खेती के लिए अत्यधिक पानी की आवश्यकता रहती है। चावल में कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन के अलावा विटामिन बी, कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन इत्यादि पोषक तत्व भी पाये जाते है।

इससे भात बनती है जो भारत में मुख्य खाद्य पदार्थ है। चावल को पकाकर दाल या किसी भी प्रकार की सब्जी से खाया जाता है। वैसे आपने भारत का लोकप्रिय व्यंजन बिरयानी का नाम सुना होगा जो चावल से बनती है।

चावल के बारे अधिक जानकारी के लिए यह पोस्ट पढ़े –

4. मक्का (Maize)

दोस्तों आपने भुट्टा तो खाया ही होगा। भुट्टा को मक्का भी कहा जाता है जिसके दाने खाये जाते है। इसे मकई या कॉर्न भी कहते है। भारत में मक्का की पैदावार अधिक मात्रा में की जाती है। इस मोटे अनाज के कृषि क्षेत्र भारत में आंध्रप्रदेश, राजस्थान, बिहार प्रमुख रूप से आते है। विश्व में चीन, ब्राजील, अमेरिका इत्यादि देश मक्का उत्पादन में प्रमुख है।

मक्का में प्रोटीन, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, विटामिन्स पाये जाते है। वजन कम करने, डायबिटीज रोगीयों के लिए, आयरन की पूर्ति करने हेतु मक्का अनाज का सेवन लाभकारी है।

मक्का अनाज के प्रकार (Corn Types Cereals Names) –

मुख्यतः 7 प्रकार के मक्का अनाज की पैदावार होती है।

  • स्वीट कॉर्न
  • पॉप कॉर्न
  • फ्लौर कॉर्न
  • डेंट कॉर्न
  • पॉड कॉर्न
  • फ्लिंट कॉर्न
  • वैक्सी कॉर्न

5. बाजरा (Millet)

इस घास फैमिली के पौधे में हरे रंग के बीज (बाजरा) पाये जाते है। भारत के साथ ही अफ्रीका में भी बाजरा का अत्यधिक उत्पादन होता है। ऐसा माना जाता है कि इस अनाज का मूल अफ्रीका से है। यह अनाज कम वर्षा वाले क्षेत्रों में भी उग जाता है, यही कारण है कि बाजरा अत्यधिक उत्पादित किया जाता है।

मनुष्य के अलावा जानवरों का भी यह अनाज खाद्य पदार्थ है। बाजरा को पीसकर रोटी बनाई जाती है। इसे खाने के कई फायदे है जिसमें से एक पाचन तंत्र को दुरुस्त करना है।

6. क्विनोआ (Quinoa)

दक्षिण अमेरिका में क्विनोआ अनाज की पैदावार की होती है। विश्व में सबसे ज्यादा क्विनोआ उत्पादन पेरू देश में किया जाता है। भारत में इसे नही उगाया जाता है परंतु फिर भी क्विनोआ यहां लोकप्रिय हो रहा है। ऑनलाइन शॉपिंग या किसी भी बड़े मॉल से इस अनाज को खरीद सकते है। गेंहू में ग्लूटिन पाया जाता है जो पेट संबंधी रोग उत्पन्न कर सकता है लेकिन क्विनोआ ग्लूटिन फ्री है। यह अनाज सफेद, लाल और काले रंग में मिलता है।

क्विनोआ में कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन के साथ ही 9 एमिनो एसिड (Amino Acid) भी पाये जाते है। इसमें फाइबर, आयरन, मैग्नीशियम, कैल्शियम इत्यादि पोषक तत्व भी मिलते है। अगर आप वजन कम करना चाहते है तो क्विनोआ का सेवन अच्छा उपाय है। कोलेस्ट्रॉल कम करता है और हड्डियों को भी मजबूत करता है। रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के साथ ही शरीर में खून की कमी दूर करता है। इसे खाने के कई सारे फायदे है, यही कारण है कि क्विनोआ को सुपरफूड भी कहते है। Quinoa Cereals Names List में अग्रीण है क्यूंकि इसके कई स्वास्थवर्धक फायदे है।

आइये अब अन्य प्रमुख अनाज के नाम इस लेख “Cereals Names In Hindi” में पढ़ते है।

अन्य 10 अनाजों के नाम (Cereals Names In Hindi)

1. दलिया (Groats)

यह एक बेहतरीन, स्वादिष्ट और स्वास्थ्यवर्धक नास्ता है। दलिया में प्रोटीन, फाइबर और विटामिन भरपूर मात्रा में पाये जाते है। गेंहू से दलिया बनता है जिसमें गेंहू को मोटा दरदरा पीसकर दलिया बनाते है। इसे खाने से पाचन तंत्र सही रहता है। दैनिक भोजन की पूर्ति के लिए दलिया खाना अच्छा माना जाता है।

2. पोहा (Rice Flacks)

पोहा धान (छिलका सहित चावल) से बनता है। अन्य अनाजों की तरह ही इसमें प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर और विटामिन्स पाये जाते है। पोहा सुबह के नास्ते में खाया जाता है।

3. जई (Oats)

जई या ओट्स सुपरफूड की श्रेणी में आता है। इसे खाने के बहुत सारे फायदे है। दूध या पानी में मिलाकर ओट्स को सुबह नाश्ते के तौर पर खाते है। जई एक तरह के बीज है जिसका दलिया बना होता है। यह फाइबर का रिच सोर्स है। प्रोटीन, आयरन, विटामिन्स और खनिज तत्व भी ओट्स में पाये जाते है। विभिन्न Cereals Names में Oats अत्यधिक लोकप्रिय है।

4. साबूदाना (Sago)

आकार में गोल और रंग में सफेद साबूदाना एक मशहुर खाद्य पदार्थ है। सैगो पाम (Sago Palm) नामक पेड़ के तने की गुदा से साबूदाना बनता है। यह पेड़ पूर्वी अफ्रीका में मूल रूप से पाया जाता है। सूप, खीर, खिचड़ी इत्यादि व्यंजन इससे बनते है। इसे खाने से कार्बोहाइड्रेट के साथ ही विटामिन और कैल्शियम मिलता है। वजन बढ़ाने और हड्डियों की मजबूती के लिए साबूदाना एक अच्छा उपाय है। शरीर में एनर्जी के लिए साबूदाना एक बढ़िया स्रोत है।

5. सूजी (Semolia)

गेंहू को पीसकर सूजी बनती है। इसे आटे की तुलना में थोड़ा मोटा पीसते है। इसका सबसे ज्यादा उपयोग हलवा बनाने में किया जाता है। इसके साथ ही सुजी के कई और पकवान भी बनते है। गेंहू के समान ही पोषक तत्व सूजी में होते है।

6. मुरमुरे (Puffed Rice)

यह चावल से बनते है। चावल के दानो को उच्च दाब के साथ भाप की सहायता से गर्म करते है। इससे चावल के दाने फूल जाते है। प्रसिद्ध फास्टफूड “भेलपुरी” मुरमुरे से ही बनती है। इसके अलावा चाट बनाने में भी इसका इस्तेमाल करते है।

8. ज्वार (Sorghum)

इसे चारा भी कहा जाता है। जानवरों का यह प्रमुख खाद्य पदार्थ है जो बकरी, भैंस इत्यादि को खिलाया जाता है। विश्व  के कई क्षेत्रों में ज्वार को मनुष्य भी खाते है, खासकर गरीब देशों में। इससे शराब भी बनती है। ज्वार में फाइबर और आयरन भरपूर मात्रा में पाये जाते है। इसमें प्रोटीन, स्टार्च, विटामिन इत्यादि भी होते है। ज्वार भी ग्लूटेन फ्री होता है जिससे गेंहू से एलर्जी वाले इसे खा सकते है।

9. चोकर (Bran)

यह गेंहू से प्राप्त किया जाता है। गेंहू को पीसकर आटा बनता है और आटे के साथ ही चोकर मिला हुआ रहता है। छलनी के द्वारा चोकर को आटे से अलग किया जाता है।इसमें आयरन, प्रोटीन के साथ कैल्शियम, मैग्नीशियम जैसे कई पोषक तत्व पाये जाते है।कब्ज दूर करने के लिए चोकर का सेवन करना चाहिए।

10. नूडल्स (Noodles)

यह गेंहू, बाजरा, चावल या मक्का इत्यादि अनाज से बनता है। इन अनाज के आटे से लंबे रेशेदार नूडल्स बनते है। तेल में पकाकर नूडल्स बनाये जाते है। आपने नूडल्स जरूर खाये होंगे। स्वाद में लजीज और स्वास्थ्य के लिए लाभकारी भी होते है।

दोस्तों, आपको विभिन्न प्रकार के अनाज के नाम और उनके बारे में सामान्य जानकारी इस लेख Cereals Names In Hindi And English में पसंद आयी हो तो शेयर जरूर करे।

Share on:

नॉलेज डब्बा ब्लॉग टीम आपको विज्ञान, जीव जंतु, इतिहास, तकनीक, जीवनी, निबंध इत्यादि विषयों पर हिंदी में उपयोगी जानकारी देती है। हमारा पूरा प्रयास है की आपको उपरोक्त विषयों के बारे में विस्तारपूर्वक सही ज्ञान मिले।

Leave a comment