पैन्सी का फूल | Pansy Flower In Hindi Information

पैन्सी का फूल बड़ा ही रोचक और खूबसूरत होता है। Pansy Flower In Hindi Information लेख में पैन्सी फूल या बनफूल के बारे में जानकारी दी गयी है। यह फूल बाग बगीचों की शोभा बढ़ाने में काम आता है। घरों में भी सजावट के तौर पर इसे लगा सकते है। अपनी सुंदरता के कारण पैन्सी फूल अत्यधिक लोकप्रिय है। इसकी मूल प्रजाति के अलावा कई और संकर प्रजातियां है जो बागवानी में इस्तेमाल की जाती है। आइये दोस्तों, पैन्सी फूल (Viola Plant Flower) की जानकारी जानने का प्रयास करते है।

Information About Pansy Flower In Hindi

पैन्सी का फूल – Information About Pansy Flower In Hindi

1. आपके मन में सवाल होगा कि पैन्सी फूल का पौधा कहा का मूल निवासी है? जवाब है यूरोप। लेकिन वर्तमान में यह दुनिया के कई क्षेत्रों में मिल जाता है। मुख्यतः यूरोप और एशिया महाद्वीप इसके मुख्य स्रोत है। इसकी व्यवसायिक खेती भी इन्ही क्षेत्रों में की जाती है। भारत देश में भी पैन्सी के फूल बहुतायत से मिलते है।

2. मुख्यतः पैन्सी के फूल का रंग बैंगनी होता है लेकिन यह अन्य रंगों में भी पाया जाता है। जैसे कि पीले या सफेद रंग के पैंसी फूल भी पाये जाते है। सामान्यतः पैन्सी के फूल तीन कलर वेरायटीज में मिलते है। पहली वेरिएटी में फूल की पंखुड़ियों का एक रंग होता है जबकि दूसरे प्रकार में पंखुड़ी के केंद्र में काले रंग की धारियां होती है। तीसरे प्रकार के पेन्सी फूल में गहरे रंग के धब्बे होते है। ये धब्बें face marking की तरह दिखाई पड़ते है।

3. ऐसा नही है कि पैन्सी का फूल केवल सुंदर है, यह सुंगन्धित भी होता है। सुंदरता और खुशबू के कारण ही पैन्सी का फूल उपहार स्वरूप भी दिया जाता है। वैसे दोस्तों में आपको बता दु की सभी पैन्सी के फूलों में खुशबू नही होती है। कुछ प्रकार के पैन्सी फूल खुशबू रहित भी होते है। बैंगनी रंग (Violet Color) के Pansy Flower में सबसे ज्यादा सुगंध होती है।

4. इस खुशबूदार फूल की बड़े पैमाने पर व्यवसायिक खेती भी की जाती है। वैसे तो सालभर यह फूल मार्केट में उपलब्ध रहता है लेकिन बसंत ऋतु इसका मुख्य सीजन है।

5. पैन्सी का फूल सजावट के अलावा प्राकृतिक रंग बनाने में भी उपयोग किया जाता है। जी हां आपने सही पढ़ा, प्राकृतिक रंगों के उत्पादन में पैन्सी के फूल इस्तेमाल किये जाते है।

6. अगर आप किसी से प्यार करते है तो पैन्सी फ्लॉवर तोहफा देने का एक अच्छा विकल्प है। यूरोप में प्यार का इजहार करने के लिए पैन्सी फूल तोहफे में दिये जाते है।

7. पैन्सी का फूल एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण लिये होता है। इसके अलावा विटामिन ए और सी का भी यह स्रोत है। पैन्सी फूल की पंखुड़ियों को चाय में उपयोग कर सकते है जो सेहत की दृष्टि से उत्तम है।

8. दोस्तों, Pansy फूल का नाम फ्रेंच भाषा के शब्द “Pens’ee” से आया है। इस शब्द का अर्थ “विचार” होता है। इसके विभिन्न रंग विभिन्न विचारों को प्रकट करते है। वैसे दोस्तों आप चाहे तो पैन्सी फ्लावर की पत्तियां खा भी सकते है। जी हां इसका फूल और पत्तियां खाने योग्य होती है।

पैन्सी फूल की प्रजातियां – Viola Flower In Hindi (Species & Varieties)

1. पैन्सी का फूल पौधों की “Viola” जाति से आता है। Viola जाति Violet Family “Violaceae” से संबंध रखती है। यह इस फैमिली की सबसे बड़ी जाति है जो 500 से ज्यादा प्रजातियों को समाहित करती है।

2. दोस्तों, पैन्सी फूल की कई varieties मिलती है। इसकी मुख्य प्रजाति से संकर तकनीक का इस्तेमाल करके कई सारी अन्य varieties बनाई जाती है। मुख्य Pansy Varieties इस प्रकार है –

  • मैट्रिक्स सोलर फ्लैयर
  • डेल्टा प्रीमियम मरीना
  • पैन्सी येलो फ्लॉवर
  • बिंगो सीरीज पैन्सी
  • वियोला पैन्सी प्राइम रोज़
  • डेल्टा स्पीडी पर्पल
  • कूल वेव वाइट पैन्सी
  • मंकी फेस पैन्सी
  • अल्टिमा मोरफो

जलवायु, मौसम, पौधा, बीजारोपण की जानकारी

1. वैसे तो यह फूल ठंडी जलवायु का माना जाता है। लेकिन अब उन्नत तकनीक के कारण पैन्सी का फूल गर्म जलवायु में भी उगाया जा सकता है। केवल मई और जून की अत्यधिक गर्मी में ही इस पौधे पर फूल नही लगते है।

2. यह पौधा लगाने के लिए मिट्टी का उपजाऊ होना जरूरी है। जल निकासी भी मिट्टी से होती रहनी चाहिए। पैन्सी फूल का पौधा साधारण धूप में अच्छी तरह से विकसित होता है। पानी की मात्रा भी सामान्य ही चाहिए होती है। ज्यादा पानी देने से पौधा खराब हो सकता है।

3. पैन्सी फूल को बनफूल भी कहा जाता है। भारत में इसे पांसे का फूल भी कहते है। यह एक वार्षिक पौधा है जिस पर सुंदर बैगनी या पीले रंग के फूल लगते है। वैसे इसकी संकर प्रजातियों को बारहमास उगाया जाता है। फूलों का आकार 1 से 2 इंच के करीब होता है। एक फूल में पंखुड़ियों की संख्या 5 होती है।

4. बीजारोपण (Seeding) करके पैन्सी फ्लॉवर को उगाया जा सकता है। बसंत ऋतु में पैन्सी फूल का पौधा उगाना बेहतर है। यह एक द्विवार्षिक पौधा है, बीजारोपण के दूसरे वर्ष में फूल देता है। भीषण गर्मियों में पैन्सी फ्लावर सुख जाता है।

5. क्या आप भी घर के गार्डन में पैन्सी का पौधा लगाना चाहते है? अगर हां तो इसे उगाना बहुत आसान है। परंतु इसकी देखरेख करने के लिए तैयार रहना होगा। पैन्सी फूल के पौधे को गार्डन में या फिर सजावट की तरह घर के गमलों में इसे लगाया जा सकता है।

यह भी पढ़े –

प्रिय दोस्तों, पैन्सी फूल की जानकारी पर आधारित यह लेख Information About Pansy Flower In Hindi आपको कैसा लगा? बनफूल (Wild Flower) या पैन्सी फ्लावर क्या है? से संबंधित विभिन्न विषयों पर आपके विचारों का कमेंट बॉक्स में स्वागत है। “Viola Flower In Hindi” लेख पसंद आया हो तो इसे शेयर भी करे।

About the Author: Knowledge Dabba

नॉलेज डब्बा ब्लॉग टीम आपको विज्ञान, जीव जंतु, इतिहास, तकनीक, जीवनी, निबंध इत्यादि विषयों पर हिंदी में उपयोगी जानकारी देती है। हमारा पूरा प्रयास है की आपको उपरोक्त विषयों के बारे में विस्तारपूर्वक सही ज्ञान मिले।

Leave a Reply

Your email address will not be published.