Zinnia Flower In Hindi Information जिन्निया का फूल

जिन्निया (Zinnia) एक खूबसूरत फूल है जो अक्सर बाग बगीचों में देखा जा सकता है। यह एक तेजी से बढ़ने वाला फूल है जिसकी बागवानी बहुतायत से की जाती है। वैसे में आपको बता देता हूं की जिन्निया का पौधा उत्तरी अमेरिका में ज्यादातर पाया जाता है। तो आइए मित्रों जिन्निया झाड़ीदार पौधे के बारे में सामान्य जानकारी जानने का प्रयास इस पोस्ट “Information About Zinnia Flower In Hindi” में करते है।

Zinnia Flower In Hindi Information

जिन्निया का फूल Zinnia Flower Information In Hindi

1. जिन्निया (Zinnia Flower) एस्टेरेसी कुल का पौधा है। पुष्पीय पौधों में एस्टेरेसी दूसरा सबसे बड़ा कुल माना जाता है। इस कुल के पौधे दुनियाभर में पाए जाते है। डेज़ी और सूरजमुखी के पुष्प भी इसी कुल के अंतर्गत आते है।

2. जिन्निया का फूल Daisy Flower की फैमिली के समीप माना जा सकता है। अगर आपको डेजी के फूल के बारे में सामान्य जानकारी चाहिए तो यह पोस्ट पढ़े –

3. जिन्निया के फूलों का रंग उसकी किस्म के अनुसार अलग अलग होता है। जिन्निया फूल सफेद, लाल, बेंगनी, नारंगी, पीले इत्यादि कलर में होते है। कुछ जिन्निया किस्म के पौधों पर बहुरंगी फूल भी आते है।

4. जिन्निया एक झाड़ीनुमा पौधा है जो रंगीन और आकर्षक फूलों से युक्त होता है। इसे वार्षिक फूल भी कहते है क्योंकि वर्षभर पौधा हरा भरा रहता है। वैसे दोस्तों जिन्निया के फूल गर्मियों में खिलते है।

5. पौधे की ऊंचाई इसकी किस्म पर निर्भर करती है। कुछ जिन्निया किस्में करीब 4 फ़ीट तक चली जाती है तो कुछ की ऊंचाई 1 फ़ीट भी नही जा पाती है। इसके फूलों की चौड़ाई आधा इंच से 5 इंच तक होती है।

जिन्निया का पौधा की जानकारी Zinnia Plant Information Facts

6. वैसे तो आप जिन्निया के पौधे (Zinnia Plant) किसी भी मौसम में लगा सकते है लेकिन गर्मी का मौसम श्रेस्ठ है। इस पौधे को सूर्य का प्रकाश चाहिए जिसके लिए पौधे पर सीधी धूप की आवश्यकता रहती है। इसलिए जिन्निया का पौधा वहां पर प्लांट करना चाहिए जहां पौधे को आसानी से धूप मिल सके।

7. जिन्निया के पौधे को पानी की बराबर मात्रा मिलती रहनी चाहिए। ना तो अधिक पानी और ना ही कम। इस पौधे को कम से कम हर हफ्ते पानी जरूर पिलाना चाहिए।

8. ज्यादातर पौधों की तरह ही जिन्निया का पौधा भी बीजों के अंकुरण से ही पनपता है। करीब 1 सप्ताह के भीतर ही यह पौधा उग आता है। लेकिन जिन्निया पर फूल खिलने में थोड़ा समय लगता है।

9. जिन्निया का पौधा उत्तरी अमेरिका के अलावा दक्षिण अमेरिका के कुछ हिस्सों में भी मिलता है। भारत में भी जिन्निया के पौधे देखने को मिल जाते है। जिन्निया की करीब 20 ज्ञात जातियां है जो दुनिया के कई हिस्सों में मिलती है।

10. जिन्निया पौधे की पत्तियां शाखा पर विपरीत रूप से व्यवस्थित होती है। पत्तियां सकीर्ण रूपी खुरदरी होती है।

जिन्निया की जानकारी Zinnia Flower Meaning And Information In Hindi

11. इस पौधे के फूल में नर और मादा प्रजनन अंग क्रमशः पुंकेसर और अंडप दोनों मौजूद होते है। जिन्निया के फूल तितलियों और हमिंग बर्ड्स को भी अपनी और आकर्षित करते है।

12. फूल का आकार और दिखावट सूरजमुखी और डेजी फ्लॉवर के समान होता है। जिन्निया फूल के केंद्र में एक डिस्कनुमा संरचना होती है जिसके चारों तरफ पंक्ति में पंखुड़ियां रहती है। जिन्निया फूल में पंक्तियों की संख्या एक या दो हो सकती है।

13. जिन्निया पौधे की खासियत होती है कि इसकी शाखा कटने पर भी वापस फूल आ जाते है। यानिकि अगर इसकी किसी भी शाखा को काट दे तो भी वहाँ से फूल विकसित हो जाता है।

यह भी पढ़े – 

Note – तो दोस्तों, आपको इस पोस्ट Information About Zinnia Flower In Hindi में जिन्निया फूल के बारे में सामान्य जानकारी कैसी लगी। अगर यह आर्टिकल “Zinnia Flower Meaning And Information In Hindi” अच्छा लगा हो तो इसे शेयर भी करे।

About the Author: Knowledge Dabba

नॉलेज डब्बा ब्लॉग टीम आपको विज्ञान, जीव जंतु, इतिहास, तकनीक, जीवनी, निबंध इत्यादि विषयों पर हिंदी में उपयोगी जानकारी देती है। हमारा पूरा प्रयास है की आपको उपरोक्त विषयों के बारे में विस्तारपूर्वक सही ज्ञान मिले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *