लालची कुत्ते की शिक्षाप्रद कहानी Story Of Greedy Dog In Hindi

यह बाल कहानी Story Of Greedy Dog In Hindi लालची कुत्ते के बारे में है जिसने लालचवश अपनी मति खराब कर ली थी। “लालच बुरी बला है” यह कहावत चरितार्थ करने के लिए कई बाल कहानियां मौजूद है। ऐसी ही एक लालची कुत्ता की कहानी है। इस कहानी से जीवन जीने की अनमोल शिक्षा मिलती है। बच्चों के बालमन को प्रभावित करने में कहानियां महत्वपूर्ण होती है। “लालची कुत्ते की कहानी” बच्चों के लिए शिक्षाप्रद है। तो आइये दोस्तों, लालची कुत्ते की लघु कहानी (Greedy Dog Story For Kids In Hindi) और इससे मिलने वाली शिक्षा को पढ़ते है।

Story Of Greedy Dog In Hindi

लालची कुत्ते की कहानी – Story Of Greedy Dog In Hindi

दोस्तों, एक समय की बात है। एक गांव में एक कुत्ता रहता था। वह कुत्ता स्वभाव से बहुत लालची था। वह हमेशा और अधिक पाने की चाह में लगा रहता था। एक दिन वह कुत्ता खाने की तलाश में गांव में घूम रहा था। उसे भूख भी बहुत तेज लगी थी। बहुत देर तक तलाश करने के बाद एक घर के बाहर कुत्ते को ब्रेड का टुकड़ा मिलता है। वह ब्रेड का टुकड़ा पाकर बहुत खुश हुआ।

कुत्ते ने सोचा कि कही छाया में एकांत में बैठकर ब्रेड खाना चाहिए। इसलिए वह एकांत जगह की तलाश में चल पड़ता है। रास्ते में एक नदी पड़ती है। अचानक कुत्ते की नजर नदी के पानी पर जाती है। नदी के पानी में उसको खुद की परछाई दिखाई देती है। परन्तु वह मूर्ख कुत्ता यह समझ नही पाया कि वह परछाई उसी की है।

परछाई को देखकर लालची कुत्ता सोचता है कि पानी में कोई और कुत्ता है जिसके पास भी ब्रेड का एक टुकड़ा है। मन में लालच आया कि पानी के अन्दर मौजूद कुत्ते से ब्रेड का टुकड़ा छीन ले। कहते है ना कि लालच में मति मारी जाती है। उस कुत्ते का भी दिमाग घास चरने चला गया था।

वह लालचवश पानी के अंदर परछाई वाले कुत्ते पर भोंकता है। भोंकना ही था कि कुत्ते के मुंह में दबा हुआ ब्रेड का टुकड़ा पानी में गिर जाता है। ब्रेड पानी में गिरने के बाद उसे अहसान होता है कि जिसे वह दूसरा कुत्ता समझ रहा था, वास्तव में वह उसकी खुद की परछाई थी। कुत्ता लालच में आकर मूर्ख बन चुका था। उसके पास जो ब्रेड था वह भी खो चुका था। लालच में कुत्ता मूर्ख बन जाता है। भूखा लालची कुत्ता वापस अपने गांव खाने की तलाश में निकल पड़ता है।

लालची कुत्ता की कहानी की शिक्षा

इस घटना के पश्चात कुत्ता प्रण लेता है कि वह कभी भी लालच नही करेगा। क्योंकि लालच बुरी बला है। कुत्ते ने इस घटना से जीवन का सबसे बड़ा सबक सीख लिया था।

Moral Of The Story Of Greedy Dog In Hindi – इस बाल कहानी से हमें यह सीख मिलती है कि “लालच बुरी बला है”। लालच में बुद्धि का नाश होता है। दूसरों का बुरा चाहने वालों का भी बुरा ही होता है। जीवन में संतोष होना जरूरी है। इसलिए दोस्तों लालच कभी भी नही करना चाहिए। लालच में अधिक पाने की चाह होती है जिससे जो आपके पास है वो भी चला जाता है।

यह भी पढ़े –

Note – Short Story Of Greedy Dog In Hindi: लालची कुत्ता की कहानी आपको अच्छी लगी हो तो इसे शेयर भी करे। जानवरों पर आधारित बेहतरीन कहानियों को पढ़ने के लिए हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब भी करे। इस पोस्ट “Greedy Dog Story For Kids In Hindi” के बारे में आपके विचारो को कमेंट के माध्यम से शेयर भी करे।

You May Also Like

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *