पैंगोलिन जानवर की रोचक जानकारी Pangolin Animal In Hindi

इस पोस्ट Information About Pangolin Animal In Hindi में पैंगोलिन जानवर क्या है और इसके बारे में रोचक जानकारी (Pangolin Information In Hindi) है। पैंगोलिन एक डरावना स्तनधारी प्राणी है। इसके शरीर पर खास तरह की संरचना बनी होती है। पैंगोलिन एक रोचक प्राणी है। ज्यादातर लोग इस प्राणी के बारे में जानते भी नहीं होंगे। पैंगोलिन जीव के बारे में आगे इस पोस्ट “Pangolin In Hindi” में जानेंगे।

Information About Pangolin Animal In Hindi

पैंगोलिन जानवर की जानकारी Pangolin Animal In Hindi

1. पैंगोलिन मुख्यतः एशिया और अफ्रीका महाद्वीप में पाया जाता है। भारत देश में भी पैंगोलिन मिलता है। “Pangolin” मलय भाषा के शब्द “Penggulin” से आया है जिसका अर्थ रोल करना होता है।

2. अभी तक ज्ञात पैंगोलिन की प्रजातियां कुल 8 है। इनमें चार प्रजाति एशिया में जबकि चार अफ्रीका में पायी जाती है। इनकी 8 प्रजातियों में भारतीय पैंगोलिन, चाइनीस पैंगोलिन, फिलीपींस पैंगोलिन, कैप पैंगोलिन, जियांट ग्राउंड पैंगोलिन,सुंडा पैंगोलिन, ट्री पैंगोलिन और लोंग टेल्ड पैंगोलिन आती है।

3. पैंगोलिन का सिर शरीर के मुकाबले छोटा होता है। शरीर सांप के भांति लंबा होता है। इस प्राणी की जीभ भी लंबी होती है। इससे यह शिकार करता है।

4. पैंगोलिन के दांत नही होते है जिससे भोजन को तोड़ने का काम पेट में ही होता है। यह भोजन के साथ कंकर भी निगल लेता है जो भोजन के पाचन में मदद करते है। इसकी आंखे कमजोर होती है लेकिन गन्ध सूंघने की क्षमता अधिक होती है।

5. पैंगोलिन के शरीर पर कठोर शल्क जैसी संरचना बनी होती है। यह कठोर शल्क इसके पूरे शरीर पर होते है जिसमे इसकी पूंछ भी शामिल है। पूरी दुनिया में केवल पैंगोलिन ही ऐसा एकमात्र प्राणी है। ये कठोर शल्क कैरेटिन नामक प्रोटीन के बने होते है।

पैंगोलिन जानवर Pangolin Information In Hindi

6. इस प्राणी का वजन इसकी प्रजातियों के अनुसार अलग अलग होता है। इनके वजन का लगभग 20 फीसदी केवल शल्क होते है। इसके शरीर का रंग भूरा होता है।

7. इस रोचक प्राणी का मुख्य भोजन दीमक और चींटी होता है। इसकी लम्बी जीभ से यह शिकार करता है। यह एक साल में करीब 7 करोड़ चींटियों का शिकार कर लेता है।

8. पैंगोलिन अपने बचाव के लिए पेड़ पर भी चढ़ सकता है। इसके पैर पर पंजे होते है जिनकी मदद से यह पेड़ पर चढ़ जाता है। इन पंजो की मदद से ही यह चींटियों और दीमक को खोदकर निकालता है। इसका निवास स्थान पेड़ या अंडरग्राउंड बने होल होते है।

9. खतरे की आशंका में पैंगोलिन अपने शरीर को गेंद की भांति समेट लेता है। एक गेंद की तरह यह रोल करता है। इसी से यह प्राणी खुद की आत्मरक्षा करता है। इसके मुख्य शिकारी जानवरो में टाइगर, अजगर, शेर इत्यादि होते है। लेकिन इन सबसे बड़ा शिकारी लालची इंसान है।

10. मादा पैंगोलिन का गर्भकाल करीब 4.5 माह का होता है। गर्भावस्था के बाद 1 बच्चे का जन्म होता है। थोड़ा बड़ा होने पर शिशु अपनी मां की पूंछ पर सवारी करता है। बच्चे की परवरिश मादा पैंगोलिन ही करती है। शिशु पैंगोलिन के शल्क सॉफ्ट होते है और वयस्क होने पर सख्त हो जाते है।

Pangolin प्राणी की जानकारी

11. पैंगोलिन को निशाचर भी कह सकते है। रात को यह प्राणी भोजन की तलाश में निकलता है।

12. इस रोचक प्राणी की प्रजाति धीरे धीरे खत्म हो रही है। संकटग्रस्त और विलुप्त की और अग्रसर प्राणियों में पैंगोलिन की गिनती होती है। शल्क और मीट के लिए इसका शिकार होता है जिस कारण पैंगोलिन विलुप्ति की कगार पर है। दुनिया में सबसे ज्यादा तस्करी इसी जानवर की होती है। दुनियाभर के कई देशों ने पैंगोलिन के शिकार पर प्रतिबंध लगाया हुआ है।

13. पैंगोलिन प्राणी का जीवनकाल करीब 10 से 20 वर्ष होता है।

अन्य रोचक पोस्ट्स –

Note – इस पोस्ट Pangolin Animal In Hindi में पैंगोलिन जानवर की जानकारी आपको कैसी लगी। यह आर्टिकल “Pangolin Animal Information In Hindi” अच्छा लगा हो तो इसे शेयर भी करे।

You May Also Like

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *