आईएएस क्या है, कैसे बने, योग्यता व सिलबस What Is IAS In Hindi

आईएएस क्या होता है, IAS ऑफिसर कैसे बने, Syllabus – What Is IAS In Hindi

दोस्तों, IAS देश की सबसे पावफुल और प्रतिष्ठित सेवा है। इसलिए करोडों युवाओं का सपना होता है कि वह आगे जाकर आईएएस ऑफिसर बने। भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) अखिल भारतीय सेवाओं में से एक है। यह भारत देश की सरकारी नौकरियों में “A” क्लास की पोस्ट है। लेकिन दोस्तों, आईएएस अधिकारी बनना इतना आसान नहीं है। इसके लिए बहुत ही ज्यादा मेहनत, प्रतिभा और कुशल व्यक्तित्व का तालमेल होना जरूरी है।

आज हम आपको इस आर्टिकल “What Is IAS In Hindi” में यह बताने वाले हैं कि IAS क्या होता है? IAS Kaise Bane? IAS के लिए योग्यता और आईएएस का सिलेबस क्या है?

IAS In Hindi

आईएएस क्या होता है IAS Kya Hota Hai In Hindi

IAS अफसर बनना मुश्किल जरूर है लेकिन नामुमकिन नहीं है। अगर आप चाहे तो अपनी लगन और मेहनत से आईएएस बन सकते हैं। कई युवा सालों IAS की तैयारी करते है लेकिन सफलता उनके हाथ नहीं लगती है। कुछ ही काबिल और होनहार युवा आईएएस अधिकारी बनते है।

आईएएस अखिल भारतीय सेवाओं में से एक सर्विस है। अखिल भारतीय सेवाएं भारत सरकार द्वारा नियुक्त की गई 3 सेवाओं का संयुक्त रूप है। ये तीन सेवाएं निम्न है –

1. भारतीय प्रशासनिक सेवा Indian Administrative Service (IAS)

2. भारतीय वन सेवा Indian Forest service (IFS)

3. भारतीय पुलिस सेवा Indian Police service (IPS)

आईएएस एक सिविल सेवा है। सिविल सर्विसेज के अंतर्गत IAS (Indian administrative services), IPS (Indian police services), IFS (Indian forest services), IRS (internal revenue services), IRAS (Indian railway accounts services), ITS (Indian trade services), RPF (railway protection force) इत्यादि कुल 25 सर्विसेज आती है।

IAS बनने के लिए “सिविल सर्विसेज” का एग्जाम पास करना का नाम अनिवार्य है। Civil Services का एग्जाम “UPSC” द्वारा करवाया जाता है। “UPSC” का पूरा नाम “Union Public Service Commission” जिसका हिंदी में अर्थ “यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन” होता है। हर साल लाखों आशावादी विद्यार्थी सिविल सर्विसेज का एग्जाम देते हैं लेकिन इनमें से कुछ ही का अंतिम रूप से चयन हो पाता है।

आईएएस एग्जाम पास करने के बाद कलेक्टर, कमिश्नर, डिप्टी कमिश्नर, सेक्रेटरी, चीफ सेक्रेटरी, कैबिनेट सेक्रेटरी, जोनल हेड, एसडीएम, डीएम, पब्लिक सेक्टर हेड इत्यादि पोस्टों पर सेलेक्शन होता है।

आईएएस की फुल फॉर्म क्या है? IAS Full Form In Hindi

IAS की फुल फॉर्म क्या है – IAS की फुल फॉर्म “Indian Administrative services” (भारतीय प्रशासनिक सेवा) होती है।

आईएएस बनने के लिए सबसे पहले अपने Mind को इस कठिन परीक्षा के लिए तैयार करना चाहिए। कई विद्यार्थी ऐसे होते हैं जिन्हें सिविल सर्विसेज एग्जाम के बारे कोई जानकारी नहीं होती है। इसलिए दोस्तों आज हम आपको इस पोस्ट “IAS Kaise Bane In Hindi” में सिविल सर्विसेज के बारे में कुछ महत्वपूर्ण बातें बताने वाले है।

आईएएस कैसे बनते हैं? IAS Kaise Bane In Hindi

आईएएस ऑफिसर बनने के लिए सबसे जरूरी चीज है Self Confidence अर्थात आत्मविश्वास। आईएएस का एग्जाम भारत में सबसे कठिन माना जाता है। आईएएस अफसर बनने के लिए सही प्लानिंग के साथ कड़ी मेहनत की भी आवश्यकता होती है। आईएएस ऑफिसर बनने के लिए कई मापदंड “UPSC” के द्वारा तय किए गए हैं।

IAS बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता (Qualification)

आईएएस बनने के लिए सिर्फ ग्रेजुएट पास होना जरूरी है। यदि आप भारत की किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से स्नातक है, तो IAS की परीक्षा दे सकते है। ग्रेजुएशन में सब्जेक्ट कोई भी हो, आप क्वालीफाई होते है। अगर आप ग्रेजुएशन के अंतिम सेमेस्टर या अंतिम ईयर के स्टूडेंट है तो भी IAS का फॉर्म भर सकते है।

अगर आपने बीए (BA), बी कॉम (B COM), बीएससी (BSC), बीबीए (BBA), बीसीए (BCA), इंजीनियरिंग (Engineering), मेडिकल (Madical) या फिर किसी भी तरह का कोई भी डिग्री कोर्स किया है तो आप UPSC का एग्जाम देने के लिए Eligible है।

IAS अफसर बनने के लिए नागरिकता

अखिल भारतीय सेवाओं (IAS, IPS, IFS) के लिए नागरिकता भारत, नेपाल या भूटान की होना जरूरी है।

IAS बनने के लिए उम्र सीमा

आईएएस बनने के लिए उम्र सीमा आआरक्षित वर्ग के मुताबिक अलग अलग है।

  • सामान्य वर्ग (GENERAL CATEGORY) – 21 से 32 वर्ष
  • ओबीसी वर्ग (OBC CATEGORY) – 21 से 35 वर्ष
  • अनुसूचित जाति और अनसूचित जनजाति (SC & ST CATEGORY) – 21 से 37 वर्ष
  • विकलांग (PHYSICAL HANDICAP) – 21 से 42 वर्ष
  • आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS) – 21 से 32 वर्ष

आईएएस एग्जाम कितनी बार दे सकते है?

IAS का अधिकतम एग्जाम देने के प्रयास आरक्षण के मुताबिक होता है।

  • सामान्य वर्ग (GENERAL CATEGORY) – अधिकतम 6 प्रयास
  • ओबीसी वर्ग (OBC CATEGORY) – अधिकतम 9 प्रयास
  • अनुसूचित जाति और अनसूचित जनजाति (SC & ST CATEGORY) – प्रयासों की कोई सीमा नहीं No limits (up to 37 years)
  • विकलांग (PHYSICAL HANDICAP) – प्रयासों की कोई सीमा नहीं No limits (up to 35 years)
  • आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS) – अधिकतम 6 प्रयास।

IAS कैसे बने – आईएएस क्वालिफिकेशन एग्जाम

आईएएस (IAS) बनने के लिए आपको UPSC के सिविल सर्विसेज एग्जाम को पास करना होगा। सिविल सर्विसेज के एग्जाम मुख्यतः तीन चरणों में होते हैं।

1. प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam)

प्रारंभिक परीक्षा में 2 पेपर होते हैं पहले पेपर में जनरल स्टडी और दूसरे पेपर में सीएसएटी (CSAT – Civil Services Aptitude Test) से संबंधित सवाल आते है। प्रत्येक पेपर 200 अंक का होता है। दोनों ही पेपरों में वैकल्पिक प्रश्न पूछे जाते है। जनरल स्टडी वाले पेपर में 100 Question पूछे जाते है जबकि CSAT में Questions की संख्या 80 होती है। दोनों ही पेपरों के लिए टाइम अवधि 2 घंटे की होती है।

सिविल सर्विसेज के एग्जाम को आप हिंदी और इंग्लिश दोनों में से किसी भी लैंग्वेज में दे सकते है। यह आप पर निर्भर करता है कि किस लैंग्वेज में एग्जाम देना है।

2. मुख्य परीक्षा (Mains Exam)

प्री एग्जाम (प्रारंभिक परीक्षा) के पेपर 1 की मेरिट के आधार पर आप Main एग्जाम के लिए क्वालीफाई होते हैं। मुख्य परीक्षा में कुल 9 पेपर होते है। 9 में से 7 पेपर पर ध्यान देना बहुत ही ज्यादा जरूरी है क्योंकि यही 7 पेपर मेरिट बनाते हैं। इसके अलावा दो पेपर सिर्फ क्वालीफाइ करने के लिए होते है। इनके मार्क्स मेरिट में शामिल नहीं किए जाते है। इनमें से एक पेपर इंग्लिश और दूसरा लोकल लैंग्वेज का होता है।

मुख्य परीक्षा में सभी प्रश्नों के जवाब वर्णनात्मक रूप (Written Exam) से देने होते हैं। इसलिए दोस्तों आईएएस परीक्षा को पास करने के लिए सही सब्जेक्ट का चयन किया जाना बहुत ही जरूरी है।

3. साक्षात्कार (Interview)

मेंस पास करने के बाद सिविल सर्विसेज का अगला चरण इंटरव्यू का होता है। दोस्तों इंटरव्यू का ना तो कोई पैटर्न होता है और ना ही कोई सिलेबस होता है। IAS में साक्षात्कार लगभग 45 मिनट का होता है। आईएएस का इंटरव्यू UPSC द्वारा गठित एक पैनल लेता है।

इंटरव्यू पास करने के बाद क्वालीफाइंग पेपर्स को छोड़कर बाकी सभी चरणों के आधार पर मेरिट तैयार की जाती है। इस मेरिट लिस्ट के अनुसार ही डिपार्टमेंट और पद दिए जाते है।

IAS का Syllabus क्या है?

प्रारम्भिक और मुख्य परीक्षा के लिए अलग अलग सिलेबस है।

1. प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam) Syllabus

  • IAS Exam Syllabus Paper 1:

पेपर 1 में जनरल स्टडी से सबंधित सवाल पूछे जाते है। जैसे की Current Affairs, Indian History, Indian National Movements, General Science, Indian Politics, Social Development And Economics, Indian and World Geography etc।

  • IAS Exam Syllabus Paper 2:

IAS के Civil Services Aptitude Test (CSAT) का सिलेबस निम्न है –

  • समझ (Comprehension)
  • Interpersonal Skills Including Communication Skills
  • Logical Reasoning And Analytical Ability Skills
  • निर्णय लेना और समस्या को खत्म करना (Decision making and problem solving skills)
  • सामान्य मानसिक क्षमता (General Mental Ability)
  • सामान्य गणित (Basic Math)
  • अंग्रेजी भाषा की समझ (English Language Comprehension Skills) (class 10th level)

2. मुख्य परीक्षा (IAS Mains Exam) Syllabus

  • Mains पेपर 1 – इसमें निबंध लेखन होता है।
  • Mains पेपर 2 – सामान्य अध्ययन l (भारतीय संस्कृति और विरासत, विश्व का इतिहास और भूगोल, समाज)
  • पेपर 3 – सामान्य अध्ययन II (भारतीय संविधान, प्रशासन, राजनीति, अंतरराष्ट्रीय संबंध और सामाजिक न्याय)
  • पेपर 4 – सामान्य अध्ययन III (आर्थिक विकास, पर्यावरण, प्रौद्योगिकी, जैविक विविधता और आपदा प्रबंधन)
  • Mains पेपर 5 – सामान्य अध्ययन IV (नैतिकता, अखंडता और योग्यता)
  • पेपर 6 – वैकल्पिक विषय पेपर l
  • पेपर 7 – वैकल्पिक विषय पेपर II

दोस्तों, पेपर 6 और पेपर 7 के लिए UPSC द्वारा 48 ऑप्शनल सब्जेक्ट की लिस्ट तैयार की गई है। इन्हीं में से आपको वैकल्पिक विषय चुनना होता है।

IAS के कार्य

आईएएस अफसर देश चलाता है। हां सही पढ़ा आपने IAS अफसर देश चलाता है। इसका कारण है कि देश की संसद में बनने वाले कानूनों को IAS लागू करते है। देश के लिए आवश्यक नीतियां बनाने में भी आईएएस की भूमिका होती है। IAS के कार्यो में सरकारी आदेशों का पालन करना और सँभालना भी है। अपने क्षेत्र में कानून व्यवस्था बनाये रखने में भी  आईएएस अधिकारी की अहम भूमिका होती है।

अन्य उपयोगी पोस्ट्स – 

Note – इस पोस्ट में आईएएस क्या होता है, IAS ऑफिसर कैसे बने (IAS Kaise Bane In Hindi)? IAS की योग्यता व सिलबस क्या है? के बारे में संक्षिप्त रूप से बताया गया है। “IAS Kya Hota Hai” आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे शेयर भी करे।

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *