फेसबुक का इतिहास और आविष्कार History Of Facebook In Hindi

History Of Facebook In Hindi पोस्ट में फेसबुक का आविष्कार (Facebook Ka Avishkar Kisne Kiya) और इतिहास के बारे में जानेंगे। फेसबुक दुनिया का सबसे बड़ा सोशल मीडिया प्लेटफार्म है जो चैटिंग, शेयरिंग और पोस्टिंग के फीचर्स उपलब्ध करवाती है। फेसबुक को सोशल नेटवर्किंग साइट भी कहते है जिसमें टेक्स्ट, इमेज की पोस्ट को दोस्तो से शेयर करते है।

फेसबुक ने दुनिया को सीमित कर दिया है जिससे कम्युनिकेशन आसान हो गया है। वर्तमान समय में फेसबुक अत्यधिक प्रसिद्ध है जिसका उपयोग दुनियाभर में किया जाता है। तो आइए दोस्तों, फेसबुक का इतिहास (Facebook Ka Itihas), फेसबुक का मालिक कौन है और आविष्कार के बारे में चर्चा करते है।

फेसबुक का इतिहास और फेसबुक का आविष्कार किसने किया? इन प्रश्नों का उत्तर इस आर्टिकल “Facebook History In Hindi” में जानने का प्रयास करेंगे।

History Of Facebook In Hindi

फेसबुक का इतिहास History Of Facebook In Hindi –

Facebook Ka Avishkar Kisne Kiya – फेसबुक का आविष्कार मार्क जुकरबर्ग ने किया था। मार्क जुकरबर्ग फेसबुक के संस्थापक भी थे जिनका पूरा नाम मार्क इलियट जुकरबर्ग है। इनका जन्म 14 मई, 1984 में हुआ था। आपको जानकर हैरानी होगी कि मार्क जुकरबर्ग कॉलेज ड्रॉप आउट भी है।

न्यूयॉर्क, अमेरिका के रहने वाले जुकरबर्ग ने अपने कुछ साथियों के साथ मिलकर 4 फरवरी, 2004 को फेसबुक शुरू किया था। शुरुआत में इसका नाम “The Facebook” रखा गया था। फेसबुक का निर्माण करने में मार्क जुकरबर्ग के अलावा उनके हावर्ड यूनिवर्सिटी के चार दोस्तों का भी अहम योगदान था। इनमें Eduardo Saverin, Dustin Moskovitz, Chris Hughes, Andrew McCollum का नाम आता है।

फेसबुक की स्थापना करने से पूर्व मार्क जुकरबर्ग ने “facemash” नामक प्रोग्राम बनाया था। यह प्रोग्राम हावर्ड यूनिवर्सिटी में काफी पसंद किया गया। शरुआत में Facemash को हावर्ड में बेन कर दिया गया था क्योंकि जुकरबर्ग ने स्टूडेंट्स की आइडी और फ़ोटो हैक किये थे। लेकिन कुछ समय बाद बेन हटा लिया गया।

हावर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ाई करते वक्त मार्क जुकरबर्ग को फेसबुक बनाने का आइडिया आया था। शुरू में फेसबुक केवल हावर्ड तक ही सीमित थी। बाद में बॉस्टन और स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में भी फेसबुक का उपयोग शुरू हुआ था। यह वेबसाइट केवल यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स की डायरेक्टरी के रूप में कार्य करती थी।

फेसबुक का आविष्कार Facebook Ka Avishkar Kisne Kiya –

फेसबुक के इतिहास (History Of Facebook In Hindi) – Facebook.Com डोमेन नेम वर्ष 2005 में रजिस्टर्ड किया गया था। वर्ष 2006 में फेसबुक ने यूज़र्स की ऐज लिमिट 13 वर्ष की थी जिससे फेसबुक का यूजर ग्लोबल हो गया था। इसी वर्ष फेसबुक ने न्यूज़ फीड का ऑप्शन भी दिया था जिससे यूजर को अन्य यूज़र्स के पोस्ट दिखाई पड़ते थे। वर्ष 2007 में फेसबुक ने पेज बनाने की शुरुआत की थी। कई बड़ी और छोटी कम्पनियों के फेसबुक पेजेज मौजूद है। वर्ष 2008 में फेसबुक ने ही सर्वप्रथम चैटिंग सेवा शुरू की थी। वर्ष 2009 में फेसबुक ने फेसबुक की मोबाइल एप लांच की थी।

वर्ष 2012 में कम्पनी ने शेयर मार्किट में लिस्टिंग की थी जिसकी वेल्यू 104 अरब डॉलर थी। फेसबुक का हेडक्वार्टर कैलिफोर्निया, अमेरिका में स्थित है।

फेसबुक के इतिहास (History Of Facebook In Hindi) से आप परिचित हो गए होंगे, अब जानते है कि फेसबुक क्या है?

फेसबुक क्या है व जानकारी What Is Facebook –

1. फेसबुक (Facebook) में ऑडियो और टेक्स्ट चैटिंग के अलावा वीडियो कॉलिंग का फीचर्स भी होता है। इमेज और वीडियो अपलोड भी आप कर सकते है। टेक्स्ट, इमेज या वीडियो पोस्ट को आप अपने फ्रेंड को शेयर भी कर सकते है। आप फेसबुक दोस्तों को फेसबुक मैसेंजर को सहायता से मैसेज भी कर सकते है। यह मैसेज प्राइवेट होता है जो आपके और दोस्त के बीच है।

2. फेसबुक पर आप अपने ब्रांड नेम के पेज और ग्रुप भी बना सकते है। बिज़नेस को बढ़ाने के लिए आजकल सभी बड़ी कम्पनियां फेसबुक पेज बनाती है। आजकल फेसबुक लाइव नामक फीचर से वीडियो को लाइव स्ट्रीमिंग की जा सकती है।

3. फेसबुक के द्वारा दोस्तों और सगे संबंधियों से हर वक्त आप जुड़े रहते है। नए दोस्त भी आसानी से इस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर बन सकते है। फेसबुक को इस्तेमाल करना बहुत आसान है और यह फ्री भी है। यही कारण है कि दुनियाभर में यह लोकप्रिय है।

4. फेसबुक पर अन्य यूज़र्स को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजना भी आसान है। रिसीवर यूजर फ्रेंड रिक्वेस्ट को accept करता है। फेसबुक पर किसी भी पोस्ट को लाइक भी कर सकते है। अगर आप पोस्ट के बारे में कमेंट करना चाहते है तो उसका ऑप्शन भी है।

5. फेसबुक (Facebook) पर अकाउंट क्रिएट करना आसान और मुफ्त है। Facebook अकाउंट बनाने के लिए ईमेल आईडी या मोबाइल नम्बर के साथ पासवर्ड की आवश्यकता होती है। अकाउंट बनाने के बाद यूजर अपना प्रोफाईल भी बना सकता है। प्रोफाइल में यूजर का प्रोफाइल पिक्चर, नाम, एजुकेशन इत्यादि होते है। फेसबुक होम पेज पर Timeline, Status, News Feed, नोटिफिकेशन इत्यादि ऑप्शन होते है।

Facebook History In Hindi फेसबुक का इतिहास –

इस सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने के लिए इंटरनेट कनेक्शन की आवश्यकता होती है। सामान्य शब्दों में कहे तो ऑनलाइन रहना जरूरी है। फेसबुक एकाउंट को डिलीट भी कर सकते है। इसमें डिएक्टिवेट का ऑप्शन भी होता है जिससे आपका एकाउंट कुछ समय के लिए डिलीट होता है। वर्तमान में फेसबुक हिन्दी भाषा में भी उपलब्ध है। करीब 70 भाषाओं में फेसबुक का इस्तेमाल किया जा सकता है। फेसबुक का इस्तेमाल वेबसाइट और एप्प पर भी किया जाता है। फेसबुक एप्लिकेशन को गूगल प्ले स्टोर से डाऊनलोड किया जा सकता है।

फेसबुक (Facebook) ने बहुत ही कम समय में बड़ी सफलता अर्जित की है। फेसबुक यूजर्स को सारी सुविधाएं फ्री में उपलब्ध करवाता है। फेसबुक की आय का मुख्य स्रोत विज्ञापन है। फेसबुक पर फेक एकाउंट भी बने हुए है लेकिन फिर भी यह विश्वसनीय है। हर गुजरते वक्त के साथ फेसबुक ने सिक्युरिटी और प्राइवेसी को मजबूत किया है।

यह भी पढ़े – 

Note – इस पोस्ट History Of Facebook In Hindi में फेसबुक का आविष्कार (Facebook Ka Avishkar Kisne Kiya) और फेसबुक का इतिहास पर जानकारी आपको कैसी लगी। यह आर्टिकल “Facebook Ka Malik Kon Hai” अच्छा लगा हो तो इसे शेयर भी करे।

You May Also Like

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *