नाइट्रोजन क्या है, कार्य और खोज Nitrogen In Hindi

Nitrogen In Hindi

नाइट्रोजन क्या है What Is Nitrogen In Hindi

इस पोस्ट Nitrogen In Hindi में नाइट्रोजन की खोज (Nitrogen Ki Khoj Kisne Ki), नाइट्रोजन क्या है (Nitrogen Kya Hai) और नाइट्रोजन के कार्य के बारे में जानकारी है। नाइट्रोजन एक रंगहीन और गंधहीन गैस है। पृथ्वी के वायुमंडल में नाइट्रोजन गैस सबसे अधिक पायी जाती है। नाइट्रोजन एक निष्क्रिय गैस है जो धरती पर जीवन के लिए जरूरी है।

पृथ्वी पर मौजूद प्रत्येक जंतु और पादप में नाइट्रोजन मौजूद होती है। नाइट्रोजन ब्रह्मांड का 7 वा सबसे कॉमन तत्व है। नाइट्रोजन गैस की खोज से सबंधित जानकारी (Nitrogen Gas Information In Hindi) यहाँ पर जानने का प्रयास करेंगे।

नाइट्रोजन की खोज किसने की Nitrogen Ki Khoj Kisne Ki

नाइट्रोजन की खोज (Nitrogen Ki Khoj) वर्ष 1772 में स्कॉटलैंड के रसायनविद वैज्ञानिक डेनियल रदरफोर्ड ने की थी। उन्होंने अपने प्रयोग में ऑक्सीजन और कार्बन डाइऑक्साइड को वायु से अलग किया था। इसके बाद यह पता लगा कि बची हुई गैस क्रियाशील नही थी। वर्ष 1790 शॉप्टल नामक वैज्ञानिक ने इस गैस का नाम नाइट्रोजन रखा था। डेनियल रदरफोर्ड के समय ही एक और वैज्ञानिक थे जिनका नाम विल्हेल्म शेले था।

शेल ने बताया कि वायु में मुख्यतः दो गैसे मौजूद है। इनमें से एक निष्क्रिय और दूसरी सक्रिय है। सक्रिय गैस को ऑक्सीजन कहा गया जबकि निष्क्रिय गैस नाइट्रोजन थी। फ्रांसीसी वैज्ञानिक लाव्वाज्ये ने नाइट्रोजन को ऑक्सीजन गैस से अलग किया था।

नाइट्रोजन गैस क्या है Nitrogen Kya Hai –

पृथ्वी के वायुमंडल में 78% नाइट्रोजन गैस है। यह पृथ्वी पर सबसे अधिक पायी जाने वाली गैस है। नाइट्रोजन तत्व भी पृथ्वी पर सबसे ज्यादा मिलता है। नाइट्रोजन को “N” सिंबल से दर्शाया जाता है जबकि इसका परमाणु क्रमांक 7 है। इसका अर्थ यह है कि नाइट्रोजन में कुल 7 प्रोटोन है। नाइट्रोजन गैस की कोई गंध नही है। यह एक रंगहीन और स्वाद रहित गैस है। नाइट्रोजन आवर्त सारणी में समूह 15 का तत्व है। नाइट्रोजन के एक अणु में दो परमाणु शक्तिशाली त्रिसंयोजी बंध के कारण जुड़े होते है। नाइट्रोजन का गलनांक बिंदु -210.01℃ है जबकि क्वथनांक बिंदु -195.79℃ है।

यह गैस सामान्य ताप व दाब पर निष्क्रिय रहती है। उच्च ताप पर नाइट्रोजन मैग्नीशियम, बोरोन, कैल्शियम इत्यादि तत्वों के साथ मिलकर नाइट्राइड योगिक बनाती है। हाइड्रोजन के साथ मिलकर नाइट्रोजन अमोनिया (NH3), हाइड्रेजिन (N2H2) और हाइड्रेजोइक (HN3) तीन योगिक बनाती है। बहुत कम तापमान पर नाइट्रोजन तरल अवस्था में रहती है।

नाइट्रोजन चक्र क्या है Nitrogen Cycle In Hindi –

प्राणियों की जैविक क्रियाओं में नाइट्रोजन चक्र महत्वपूर्ण होता है। पेड़ पौधों का नाइट्रोजन जैविक खाद के रूप में इस्तेमाल होता है। यह गैस पादप और जन्तुओ दोनों के लिए महत्वपूर्ण है। मनुष्य या दूसरे जीव नाइट्रोजन को सीधे उपयोग में नही ले सकते है। इसलिए नाइट्रोजन का उपयोग करने के लिए नाइट्रोजन योगिक बनते है।

इस तरह से नाइट्रोजन योगिक बनने को नाइट्रोजन चक्र कहते है। इसे जटिल जैव रासायनिक चक्र भी कह सकते है। वायुमंडलीय नाइट्रोजन का उपयोगी योगिकों में रूपांतरण जरूरी है। नाइट्रोजन का अन्य तत्वों के साथ मिलकर योगिक का निर्माण करना ही नाइट्रोजन योगिकीकरण कहलाता है।

नाइट्रोजन यौगिकीकरण इस चक्र का सबसे पहला चरण है। नाइट्रोजन वायुमंडल से वर्षा के रूप में मिट्टी या पानी में जमा होता है। यहां पर नाइट्रोजन तत्व का अमोनिया योगिक बनता है। यह प्रोसेस ही नाइट्रोजन स्थिरीकरण है। कुछ सूक्ष्म जीव भी नाइट्रोजन स्थिरीकरण करते है। इस चक्र के अंत में नाइट्रोजन वापस वायुमंडल में फ्री हो जाता है। इस तरह नाइट्रोजन का वायुमंडल से जैविक क्रियाओं में आना और वापस वायुमंडल में फ्री होना ही नाइट्रोजन चक्र कहलाता है।

नाइट्रोजन के कार्य Uses Of Nitrogen In Hindi –

इस गैस का उपयोग आइसक्रीम बनाने में किया जाता है। फॉर्मूला वन रेसिंग में गाड़ियों के टायरों में नाइट्रोजन गैस भरने से टायर फटते नही है। खाद्य पदार्थों के भंडारण में भी नाइट्रोजन का इस्तेमाल किया जाता है। इससे खाद्य सामग्री ताजा और सुरक्षित रहती है। स्टेनलेस स्टील भी नाइट्रोजन के द्वारा बनाई जाती है। TNT विस्फोटकों में भी नाइट्रोजन का इस्तेमाल होता है।

नाइट्रोजन (Nitrogen) का उपयोग अमोनिया गैस बनाने में किया जाता है। हाइड्रोजन और नाइट्रोजन मिलकर हैजर क्रिया में अमोनिया बनाते है। अमोनिया का इस्तेमाल उवर्रक और विस्फोटक बनाने में किया जाता है। उवर्रक के रूप में उपयोग की गई नाइट्रोजन मृदा और पानी में जाकर प्रदूषण करती है। इसलिए नाइट्रोजन उवर्रक का उपयोग खेती में कम करना चाहिए।

सल्फर के साथ मिलकर यह नाइट्रोजन सल्फाइड बनाती है। नाइट्रस ऑक्साइड (N2O) भी नाइट्रोजन और ऑक्सीजन से बनती है। इसे हंसी वाली गैस भी कहते है। मानव शरीर में 3% नाइट्रोजन है। शरीर में एमिनो एसिड बनाने में नाइट्रोजन का योगदान है। एमिनो एसिड प्रोटीन के निर्माण में जिम्मेदार होते है।

मनुष्य में डीएनए का निर्माण भी नाइट्रोजन की वजह से ही होता है। इसलिए यह कहा जा सकता है की नाइट्रोजन जीवन के लिए जरूरी गैस है। आप को जानकर हैरानी होगी कि शनि ग्रह के चंद्रमा टाइटन पर घना वायुमंडल मौजूद है जिसमें 98 फीसदी के करीब नाइट्रोजन उपस्थित है। टाइटन पर तरल नाइट्रोजन है जो बिल्कुल पानी की तरह होती है।

यह भी पढ़े – 

नोट – Nitrogen In Hindi पोस्ट में नाइट्रोजन क्या है (Nitrogen Kya Hai), नाइट्रोजन की खोज (Nitrogen Ki Khoj Kisne Ki) और नाइट्रोजन के कार्य (Uses Of Nitrogen In Hindi) के बारे में जानकारी आपको कैसी लगी। यह आर्टिकल “What Is Nitrogen In Hindi” पसंद आया हो तो इसे फेसबुक और ट्विटर पर शेयर जरूर करे।

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *