कोशिका किसे कहते हैं व खोज What Is Cell In Hindi

कोशिका किसे कहते हैं What Is Cell In Hindi

इस पोस्ट What Is Cell In Hindi में कोशिका की खोज किसने की थी (Koshika Ki Khoj Kisne Ki), कोशिका किसे कहते हैं (Koshika Kya Hai), कोशिका के प्रकार और कोशिका के अंग की जानकारी है। कोशिका जैविक शरीर की महत्वपूर्ण मूलभूत इकाई है। पृथ्वी पर मौजूद किसी भी जीव या पेड़ पौधों में कोशिका पायी जाती है। जैविक शरीर की रचना और क्रिया कोशिका पर ही निर्भर है। धरती पर मिलने वाले जीवों में जीव एककोशिकीय और बहुकोशिकीय होते है। यहां पर कोशिका की खोज किसने की (Koshika Ki Khoj Kisne Ki) और इसके कार्यो पर संक्षिप्त विवरण देने का का प्रयास है।

What Is Cell In Hindi

कोशिका की खोज किसने की थी Koshika Ki Khoj Kisne Ki –

कोशिका की खोज (Koshika Ki Khoj Kisne Ki) वर्ष 1665 में रॉबर्ट हुक नामक जीव वैज्ञानिक ने की थी। रॉबर्ट हुक ने बोतल की कार्क का परीक्षण करके कोशिका का अनुमान लगाया था। उन्होंने इसमें मधुमक्खी के छत्ते के समान कोष्ठ देखे जिन्हें “कोशा” नाम दिया। यह एक मृत कोशिका थी। प्रथम जीवित कोशिका की खोज वर्ष 1674 में एंटोनी वॉन ल्यूवेनहॉक ने की थी। उन्होंने इस जीवित कोशिका को दांत की खुरचनी में खोजा था। वर्ष 1839 में श्लाइडेन और श्वान नामक वैज्ञानिकों ने कोशिका सिद्धांत दिया था। कोशिका सिद्दांत के अनुसार सभी सजीवों का शरीर एक या एक से अधिक कोशिकाओं से मिलकर बना होता है। रॉबर्ट ब्राउन नामक वैज्ञानिक ने कोशिका में केन्द्रक की खोज की थी।

क्रियात्मक और संरचनात्मक इकाई कोशिका (Cell) शब्द लैटिन भाषा के “शेलुला” से लिया गया है। शेलुला का अर्थ “एक छोटा कमरा है”। एक कोशिकीय जीव अमीबा से लेकर बहुकोशिकीय जीव मनुष्य तक प्रत्येक जीव कोशिका से ही बनता है। पेड़ पौधे भी कोशिकाओं से बनते है, इसलिए ये भी सजीव है। इन कोशिकाओं का आकार बहुत छोटा होता है जिसे केवल सूक्ष्मदर्शी से ही देख सकते है। कोशिका संजीव की क्रियात्मक और संरचनात्मक इकाई है।

यह स्वतः जनन करने में सक्षम होती है। नई कोशिकाओं का निर्माण पुरानी कोशिका के विभाजन से होता है। जीवों की सभी क्रियाए कोशिका के अंदर ही होती है। जीवों के आनुवंशिक गुण कोशिका में पाये जाते है। जीवों की सूचनाएं एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी कोशिका से ही स्थान्तरित होती है। कोशिकाएं आपस में मिलकर उत्तक का निर्माण करती है। उत्तक मिलकर शरीर के एक अंग का निर्माण करते है। विज्ञान की जिस शाखा में कोशिका का अध्ययन किया जाता है, उसे कोशिका विज्ञान (Cytology) कहते है।

कोशिका की संरचना Cell Structure In Hindi –

What Is Cell In Hindi – जंतु और पादप कोशिका की आकृति गोलाकार, स्तंभकार, अंडाकार, सर्पिल, बहुभुजीय इत्यादि होती है। कोशिका के ऊपर कोशिका झिल्ली पायी जाती है। इस झिल्ली को प्लाज्मा झिल्ली भी कहते है। मनुष्य में सबसे बड़ी कोशिका “तंत्रिका कोशिका” होती है। सबसे छोटी कोशिका माइकोप्लाज्मा है। यूकैरियोटिक कोशिकाओं में सबसे बड़ी कोशिका शुतुरमुर्ग का अंडा है। कोशिका में कई प्रकार के अंग होते है जिन्हें कोशिकांग कहते है।

कोशिका के अंग Parts Of Koshika In Hindi –

1. कोशिका भित्ति (Cell Wall) – पेड़ पौधों में कोशिका भित्ति उपस्थित होती है। जन्तुओ में कोशिका भित्ति नही पायी जाती है। कोशिका भित्ति मजबूत, कठोर और छिद्रयुक्त होती है। यह सेल्युलोज और पेक्टोज की बनी होती है।

2. प्लाज्मा झिल्ली या कोशिका झिल्ली (Cell Membrane) – जंतु कोशिकाओं में यह सबसे पहली और बाहरी परत होती है। पादप कोशिका में प्लाज्मा झिल्ली दूसरी परत है। यह लिपिड या प्रोटीन की बनी होती है। यह एक अर्धपारगम्य झिल्ली है जो कोशिका के अंदर और बाहर जाने वाले प्रदार्थो का निर्धारण करती है।

3. जीवद्रव्य (Protoplasm) – पृथ्वी पर मिलने वाले समस्त जीवों में जीवद्रव्य पाया जाता है। कोशिका का सारा द्रव्य जीवद्रव्य कहलाता है। सभी प्रकार की जैविक क्रियाएं इसी में होती है। जीवद्रव्य का भी स्वतः जनन होता है। पुराने जीव द्रव्य का विभाजन होकर नया जीवद्रव्य बनता है। जीवद्रव्य में 60 से 70 फीसदी जल होता है।

जीवद्रव्य के अंदर गुणसूत्र, केंद्रक, माइटोकॉन्ड्रिया और मिजोसोम, राइबोसोम और सेन्ट्रोसोम, लवक, तारककाय, गॉल्जिकाय मुख्यतः मिलते है। केन्द्रक में प्रोटीन और डीएनए होता है जिन्हें सयुंक्त रूप से क्रोमेटिन कहते है। गुणसूत्र का निर्माण क्रोमेटिन में ही होता है। केन्द्रक में गोल रचनाएं होती है जिन्हें केन्द्रिका कहते है। राइबोसोम प्रोटीन संश्लेषण के द्वारा प्रोटीन का निर्माण करता है।

गॉल्जिकाय सूक्ष्म नलिकाओं का बना होता है जिसे कोशिका का यातायात प्रबन्धक भी कहते है। माइटोकॉन्ड्रिया को कोशिका का शक्ति केंद्र भी कहते है। यहां पर कोशिका का श्वसन होता है। लवक केवल पादप कोशिकाओं में ही होते है। हरित लवक का कार्य प्रकाश संश्लेषण होता है। कोशिका विभाजन का कार्य तारककाय का होता है जो केवल जंतु कोशिका में पाया जाता है।

4. रिक्तिकाएं या रसधानी (Vacuole) – मुख्यतः पादप कोशिकाओं में ही रिक्तिकाएं पायी जाती है। कोशिका द्रव्य में गोल खोखली संरचना के रूप में रिक्तिका होती है।

कोशिका के प्रकार Types Of Cell In Hindi –

Koshika Kya Hai (Cell In Hindi) – मुख्यतः कोशिका दो प्रकार की होती है। पहली प्रोकैरियोटिक और दूसरी यूकैरियोटिक कोशिका है।

1. प्रोकैरियोटिक कोशिका (Prokaryotic Cell) –

मुख्यतः एककोशिकीय जीवों में पायी जाती है। इस कोशिका में स्पष्ठ केन्द्रक नही होता है। केंद्रक की जगह केन्द्रकाभ पाये जाते है जो कोशिका द्रव में बिखरे होते है। इस प्रकार की कोशिका जीवाणुओं और शैवालों में मिलती है। इनमें आनुवंशिक गुण नग्न न्यूक्लिक अम्ल के रूप में पाये जाते है।

2. यूकैरियोटिक कोशिका (Eukaryotic Cell) –

उच्च श्रेणी के बहुकोशिकीय जीवों में यूकैरियोटिक कोशिका पायी जाती है। इन कोशिकाओं में स्पष्ठ केन्द्रक होता है। जंतुओं और पौधों में यूकैरियोटिक कोशिका होती है। मनुष्य में भी इसी प्रकार की कोशिका पायी जाती है। आनुवंशिक गुण गुणसूत्र में मिलते है।

कोशिका किसे कहते हैं Koshika Kya Hai –

What Is Cell In Hindi – पुरानी कोशिकाओं के विभाजन से नई कोशिकाओं का जन्म होता है। इसे कोशिका का स्वतः जनन या कोशिका विभाजन कहते है। कोशिका विभाजन को कोशिका चक्र के नाम से भी जाना जाता है। कोशिका विभाजन तीन प्रकार से होता है – असूत्री विभाजन, समसूत्री विभाजन और अर्धसूत्री विभाजन।

असूत्री विभाजन प्रोकैरियोटिक कोशिकाओं में होता है। समसूत्री विभाजन कायिक कोशिकाओं में होता है। इसमें कोशिका विभाजन के बाद गुणसूत्रों की संख्या समान बनी रहती है। समसूत्री विभाजन में 5 स्टेज होती है। प्रोफेज, मेटॉफेज, एनाफेज, टिलोफेज और साईटोकाइनेसिस समसूत्री विभाजन की 5 स्टेज है। अर्धसूत्री विभाजन जन्तुओ की जनन कोशिकाओं में होता है।

कोशिका (Cell In Hindi) जंतु और पादप कोशिकाओं की क्रियात्मक और संरचनात्मक मूलभूत इकाई है। कोशिका से ही मानव या किसी भी अन्य जीव का शरीर बनता है। कोशिका को जीवन भी कहते है।

यह भी पढ़े –

Note – What Is Cell In Hindi पोस्ट में कोशिका की खोज किसने की थी (Koshika Ki Khoj Kisne Ki), कोशिका किसे कहते हैं (Koshika Kya Hai), कोशिका के प्रकार और कोशिका के अंग के बारे में जानकारी कैसी लगी। यह आर्टिकल “Koshika In Hindi” आपको अच्छा लगा हो तो इसे शेयर भी करे।

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *