Essay On Cleanliness In Hindi स्वच्छता पर निबंध

स्वच्छता का महत्व पर निबंध Swachata Par Nibandh Hindi Mein

यह पोस्ट Essay On Cleanliness In Hindi स्वच्छता का महत्व पर निबंध (Swachata Par Nibandh Hindi Mein) के बारे में है। स्वच्छता पर निबंध आमतौर पर स्कूली बच्चों को निबंध लेखन प्रतियोगिता में दिया जाता है। स्वच्छता रखना हर भारतीय का कर्तव्य और फर्ज है। इस निबंध के माध्यम से स्वच्छता के प्रति जागरूकता फैलाने का प्रयास है। तो आइये, दोस्तों स्वच्छता का महत्व पर निबंध जानने का प्रयास करते है।

Essay On Cleanliness In Hindi

स्वच्छता पर निबंध Essay On Cleanliness In Hindi –

दोस्तों, स्वच्छता (Cleanliness) रखना हमारी आदत होनी चाहिये तभी देश, शहर या गांव स्वच्छ होगा। हमारे आसपास गंदगी रखने से स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव पड़ता है। विभिन्न प्रकार के रोगों की जनक गंदगी ही है। सफाई की शुरुआत हमे अपने मोहल्ले से ही करनी होगी। अगर हमारा मोहल्ला स्वच्छ रहेगा, तो देश स्वच्छ रहेगा। शुद्ध हवा और पानी की तरह ही स्वच्छता जरूरी है।

स्वच्छता किसी पर थोपी नही जा सकती, यह एक स्वभाविक क्रिया होती है। लोग गुटका, पान या तम्बाकू खाते है और सार्वजनिक स्थानों पर थूकते है जिससे गंदगी फैलती है। वो स्वच्छता का ख्याल नही रखते क्योंकि उन्हें फिक्र नही है। सोचिए दोस्तों, क्या आप अपने घर के अंदर ऐसे थूकते है? नही ना। तो क्या यह देश आपका घर नही है? अगर इस देश को आप अपना घर मानते है तो इस तरह से गंदगी फैलाना कहा तक सही है। अगर आप खुद को एक सच्चा देशभक्त मानते है तो देश की फिक्र कीजिये।

विद्यालयों में शिक्षक बच्चों को स्वच्छता का महत्व बताये जिससे वो जागरूक हो और देश का भविष्य उज्ज्वल हो। एक बच्चा सफाई के प्रति जागरूक होगा, तो वह एक पूरी पीढ़ी को जागरूक करेगा। विद्यालय में स्वच्छता पर पढ़ाई होनी चाहिए। विद्यार्थियों को स्वच्छता का महत्व पर निबंध (Essay On Cleanliness In Hindi) लेखन से जागरूक करना बेहतर तरीका है।

विदेशी पर्यटक हमारे देश में घूमने आते है तो उन्हें एक स्वच्छ देश दिखना चाहिए। सड़कों के आसपास गंदगी होती है और जगह जगह कूड़ा करकट होते है। क्या उन पर्यटकों को आप गंदगी दिखाना चाहते हो? यह सब आप पर है क्योंकि अगर आप सुधरेंगे तो जग सुधरेगा।

स्वच्छता का महत्व Importance Of Cleanliness Essay In Hindi –

Swachata Par Nibandh Hindi Mein – सभी धर्मों में स्वच्छता का सन्देश दिया गया है। कहते है कि जहां सफाई होती है, वहां लक्ष्मी का वास होता है। हम मंदिर, मज्जिद, गुरुद्वारे में सफाई का पूरा ख्याल रखते है क्योंकि यह हमारी आस्था से जुड़ा मसला है। हम घर में भी सफाई का पूरा ख्याल रखते है क्योंकि यहां हमारा निवास है। अस्पताल, विद्यालय में भी स्वच्छता को जिम्मेदारी समझते है। लेकिन यह देश जहां हम रहते है जो हमारी पहचान है, उसे स्वच्छ नही रखते। यह हम सब की जिम्मेदारी है कि देश में स्वच्छता रहे।

स्वच्छता (Cleanliness) को हमे आत्मसात करना होगा। हमें समाज में फैली हर तरह की गंदगी को दूर करके स्वच्छता फैलानी होगी। हमें स्वच्छता की शुरुआत स्वयं से करनी होगी, तभी हम सफल होंगे। हम स्वच्छ रहने के लिए रोज स्नान करते है तो गांव या शहर को स्वच्छ रखने के लिए छोटा सा प्रयास तो कर ही सकते है। गंदगी फैलाना हम भारतीयों की आदत में है, इसी आदत को बदलना होगा, तभी स्वच्छता सफल होगी। विगत कुछ वर्षों में जागरूकता आयी है और लोगो ने स्वच्छता का महत्व समझा है। पर्यावरण प्रदूषण का सबसे बड़ा कारण स्वच्छता नही रखना है।

हम सोचते और कहते है की सफाई व्यवस्था का काम प्रशासन का है लेकिन प्रशासन को समय समय पर जागरूक रखने का कार्य हमारा है। अगर हमारे मोहल्ले या गांव में गंदगी है तो इसकी जानकारी प्रशासन को देना हमारा कर्तव्य है। आप यह कहकर पल्ला नही झाड़ सकते है की यह हमारा काम नही है। अगर कही पर गंदगी है तो इसके जिम्मेदार सबसे पहले आप है। आज भी गांवों में लोग खुले में शौच करते है जिससे गंदगी फैलती है। सरकार ने हर घर में शौचालय पहुँचाने का प्रयास किया है।

Swachata Par Nibandh सफाई पर निबंध –

Essay On Cleanliness In Hindi – आप अपने घर का कूड़ा कचरा कहा डालते हो? यह प्रश्न बेहद महत्वपूर्ण है क्योंकि स्वच्छता का सन्देश यही पर छुपा हुआ है। ज्यादातर लोग जो जागरूक नही है वो कचरे को घर के बाहर फेंक देते है। बारिश के दिनों में वो कचरा नालियों में फंस जाता है जिससे पानी का निकास नही हो पाता है। इससे मोहल्लों में जगह जगह पानी भर जाता है। इस ठहरे हुए पानी में डेंगू और मलेरिया जैसी बीमारियों के मच्छर पनपते है जो स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव डालते है।

कचरा बहकर नदियों और तालाबो में आता है जिससे पानी में गंदगी बढ़ती है। जलीय जीवों को नुकसान पहुंचता है। यही जल प्रदूषण का एक बढ़ा कारण है। जागरूक लोग कचरे को यहां वहां नही डालते है, वो कचरे को पंचायत, नगर पालिका या निगम के द्वारा लगाई गई कचरा पेटियों में डालते है।

भारत सरकार भी समय समय पर नागरिकों को स्वच्छता अभियान के अंतर्गत जागरूक करती रहती है। हमें भी एक देशभक्त नागरिक होने के नाते स्वच्छता का ख्याल रखना चाहिए क्योंकि यह आपका कर्तव्य है।

अन्य पोस्ट्स –

Note – इस पोस्ट Essay On Cleanliness In Hindi में स्वच्छता का महत्व पर निबंध (Swachata Par Nibandh Hindi Mein) आपको कैसा लगा। यह आर्टिकल “स्वच्छता का महत्व Importance Of Cleanliness Essay In Hindi” आपको अच्छा लगा हो तो इसे शेयर भी करे।

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *