हाइड्रोजन क्या है? खोज What Is Hydrogen In Hindi

इस पोस्ट What Is Hydrogen In Hindi में हाइड्रोजन क्या है? हाइड्रोजन की खोज किसने की थी? और हाइड्रोजन के समस्थानिक के बारे में जानकारी दी गयी है। हाइड्रोजन तत्व ब्रह्मांड की शुरुआत से मौजूद है। यूनिवर्स में मौजूद हर तारा हाइड्रोजन से बना हुआ है। Hydrogen Ki Khoj Kisne Ki Thi? यह प्रश्न महत्वपूर्ण है। ब्रह्मांड में हाइड्रोजन प्रचूर मात्रा में पायी जाती है। तो आइये दोस्तों, हाइड्रोजन तत्व की जानकारी लेने का प्रयास करते है।

हाइड्रोजन क्या है – What Is Hydrogen In Hindi

इस गैस का नाम हाइड्रोजन (Hydrogen) एक यूनानी शब्द है जिसका अर्थ “जल का उत्पादक” है, पर रखा गया है। हाइड्रोजन गैस प्राणवायु ऑक्सीजन के साथ मिलकर जीवन के लिए जरूरी जल (H2O) का निर्माण करती है। हाइड्रोजन को आवर्त सारणी में पहले स्थान पर रखा गया है। हाइड्रोजन को “H” सिम्बल से डेनोट करते है। हाइड्रोजन गैस के मुख्य गुणों में इसका हल्कापन आता है। यह आवर्त सारणी का सबसे हल्का तत्व है।

यह भी पढ़े – आवर्त सारणी किसे कहते है?

हाइड्रोजन गैस हीलियम में बदलती है और यही किसी भी तारे की ऊर्जा का स्रोत है। हाइड्रोजन के एक परमाणु में इलेक्ट्रॉन और प्रोटोन की संख्या एक एक होती है। इसी कारण इसकी परमाणु संख्या भी एक होती है। हाइड्रोजन में न्यूट्रॉन नही पाया जाता है लेकिन हाइड्रोजन के समस्थानिक ड्यूटीरियम और ट्रिशियम में न्यूट्रॉन मौजूद होता है।

इस गैस की कोई गन्ध, रंग और स्वाद नही है। यह गैस वातावरण में बहुत जल्दी आग पकड़ लेती है। बहुत कम ताप पर हाइड्रोजन ठोस या द्रव में चेंज हो जाता है। हाइड्रोजन वैसे एक अधातु है लेकिन कई तत्वों के साथ धातु के समान कार्य करता है।

तत्व हाइड्रोजन के तीन समस्थानिक कौन से है?

हाइड्रोजन के दो परमाणु मिलकर इसका एक अणु Hबनाते है। हाइड्रोजन के समस्थानिक भी होते है। इन समस्थानिक में प्रोटीयम, ड्यूटीरियम और ट्रिशियम आते है। ड्यूटीरियम सामान्य हाइड्रोजन से दुगना भारी होता है जो ऑक्सीजन से मिलकर भारी जल का निर्माण करता है। हाइड्रोजन के तीन समस्थानिक प्राकृतिक रूप से पाये जाते है।

हाइड्रोजन की खोज किसने की थी?

What Is Hydrogen In Hindi

हाइड्रोजन की खोज वर्ष 1766 में हेनरी कैवेंडिस ने की थी। हेनरी ने आयरन पर सल्फ्यूरिक एसिड की अभिक्रिया करवाकर इस गैस को प्राप्त किया था। उन्होंने इस गैस का नाम ज्वलनशील वायु रखा था। कई वर्षों बाद वर्ष 1883 को लैवाशिए नामक वैज्ञानिक ने इस गैस का नाम हाइड्रोजन रखा। हाइड्रोजन के समस्थानिक ड्यूटीरियम की खोज वर्ष 1932 में युरे और वाशबर्न ने की थी।

हाइड्रोजन के उपयोग Uses Of Hydrogen In Hindi

हाइड्रोजन (Hydrogen) की वायु में उपस्थिति अल्प मात्रा में है। यह अल्प मात्रा भी वायुमंडल के ऊपरी भाग में है। तारों में हाइड्रोजन मुख्यतः पाया जाता है। गैसीय ग्रहों जैसे कि बृहस्पति या शनि में हाइड्रोजन होती है। हाइड्रोजन पृथ्वी पर योगिक के रूप में किसी अन्य तत्व के साथ मौजूद रहती है।

जैसे कि जल में ऑक्सीजन तत्व के साथ हाइड्रोजन होती है। हाइड्रोजन जल के अलावा अन्य तत्वों के साथ भी यौगिक बनाता है। नाइट्रोज तत्व के साथ मिलकर हाइड्रोजन अमोनिया (NH3), क्लोरीन के साथ मिलकर हाइड्रोजन क्लोराइड (HCL) बनता है।

वर्तमान में हाइड्रोजन तत्व (Hydrogen) की नाभिकीय क्रिया से हाइड्रोजन बम भी बनाये गए है जो सामान्य परमाणु बम से कई गुना खतरनाक है। अमेरिका द्वारा जापान के शहरों हिरोशिमा और नागासाकी पर गिराए गए अणु बमों से भी कई गुना शक्तिशाली हाइड्रोजन बम है। हाइड्रोजन को भविष्य का ईंधन भी कहा जाता है।

हाइड्रोजन कैसे बनती है?

हाइड्रोजन को प्रयोगशाला में लौह तत्व के साथ सल्फ्यूरिक अम्ल की अभिक्रिया करवाकर प्राप्त कर सकते है। हाइड्रोजन को जलाने पर पानी का निर्माण होता है। अल्प मात्रा में हाइड्रोजन परॉक्साइड बनता है। पानी से हाइड्रोजन और ऑक्सीजन को अलग करके भी हाइड्रोजन प्राप्त किया जा सकता है।

इस पोस्ट What Is Hydrogen In Hindi में हाइड्रोजन क्या है? हाइड्रोजन की खोज किसने की थी? और हाइड्रोजन के समस्थानिक पर जानकारी आपको कैसी लगी? यह आर्टिकल “Hydrogen क्या है?” पसंद आया हो तो इसे फेसबुक और ट्विटर पर शेयर जरूर करे।

Frequently Asked Question About Hydrogen

Q.1 हाइड्रोजन के समस्थानिक के नाम क्या है?

Ans. प्रोटीयम, ड्यूटीरियम और ट्रिशियम

Q.2 सबसे हल्का गैस (तत्व) कौन सा है?

Ans. हाइड्रोजन

Q.3 ब्रह्मांड में सबसे अधिक कोनसी गैस (तत्व) पायी जाती है?

Ans. हाइड्रोजन

अन्य पोस्ट्स –

About the Author: Knowledge Dabba

नॉलेज डब्बा ब्लॉग टीम आपको विज्ञान, जीव जंतु, इतिहास, तकनीक, जीवनी, निबंध इत्यादि विषयों पर हिंदी में उपयोगी जानकारी देती है। हमारा पूरा प्रयास है की आपको उपरोक्त विषयों के बारे में विस्तारपूर्वक सही ज्ञान मिले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *