योगासन के नाम व प्रकार Yoga Asanas Name In Hindi

Yoga Asanas Name In Hindi

यह पोस्ट Yoga Asanas Name In Hindi में योगासन के नाम (Yogasan Ke Naam) व योगासन के प्रकार के बारे में है। योग प्राचीनकाल से ही भारत में व्यायाम का अभिन्न अंग है। वर्तमान में पूरी दुनिया मे योग किया जाता है। योग में कई प्रकार की क्रीड़ाये की जाती है जिनको योगासन कहते है। योग इंसान को शारीरिक और मानसिक तौर पर मजबूत बनाता है। चित को एक जगह स्थापित करना योग है। योगासन के प्रकार व नाम पर चर्चा का विषय है।

योगासन के नाम Yoga Asanas Name In Hindi –

1. नमस्कार आसन (Namaskar Aasan) – इस आसन को योग की शुरुआत में किया जाता है। इसमें सीधा खड़े होकर हाथ जोड़ना है। यह मुद्रा प्राथना की होती है।

2. व्रजासन (Vajrasana) – इस योग मुद्रा में पांव को मोड़कर घुटने के बल बैठते है। यह आसन रीड की हड्डी के लिए लाभकारी है।

3. अर्ध चंद्रासन (Ardha Chandrasana) – इस आसन में शरीर को आधे चांद की भांति घुमाया जाता है।

4. नटराज आसन (Natarajasana) – नटराज आसन खड़े हुए किया जाता है। इस आसन से कंधे और फेफड़े मजबूत होते है।

5. गोमुख आसन (Gomukh Aasan) – इस आसन को बैठकर किया जाता है। शरीर को सुडौल बनाने के लिए यह आसन किया जाता है।

6. सुखासन (Sukhasan) – यह आसन भी बैठकर किया जाता है। इस आसन में नाक से सांस को लेना और छोड़ना होता है। सुखासन तनाव से मुक्ति देता है।

7. योगमुद्रासन (Yoga Mudrasana) – इस आसन से मानसिक मजबूती और तनाव से मुक्ति मिलती है। इस आसन को बैठकर किया जाता है।

8. सर्वांगासन (Sarvangasana) – इस आसन में लेटकर पैरो को ऊपर की और उठाते है। पेट और पैरों में मध्य 90 डिग्री का कोण बनता है। शारीरिक तौर पर मजबूती आती है। शरीर में रक्त संचार सुचारू होता है।

9. ताड़ासन (Tadasana) – इस आसन को सीधे खड़े होकर किया जाता है। पैरो की उंगलियों पर खड़े होकर अपने दोनों हाथों को ऊपर उठाते है। यह आसन रीढ़ की हड्डी के लिए फायदेमंद है। लम्बाई बढ़ाने में यह सहायक है।

10. शवासन (Sawasan) – इस आसन में निढाल होकर लेटते है। इसमें धीरे धीरे सांस ली जाती है। मन शान्त और ऐकाग्र होता है।

योगासन के प्रकार Types Of Yoga Asanas In Hindi –

11. वृक्षासन (Vrikshasana) – वृक्षासन खड़े होकर किया जाता है। इस आसन में दाहिने पैर को बांए पैर की जांघ पर रखते है। हाथों को ऊपर करके पार्थना की मुद्रा कर लेते है।

12. भुजंगासन (Bhujangasana) – इस आसन को पेट के बल लेटकर करते है। हथेलियों को जमीन पर टिकाकर आसमान की और देखते है। गैस और एसिडिटी की समस्या में यह आसन लाभकारी है।

13. दंडासन (Dandasana) – इस आसन को बैठकर किया जाता है। धड़ को सीधा और पैरों को फैलाकर बैठते है। इस आसन से पैर और हाथ मजबूत होते है।

14. उष्ट्रासन (Ustrasana) – इस योग में ऊंट की मुद्रा बनानी होती है। घुटने पर बैठकर हाथों को पैर की उंगलियों पर स्पर्श करते है। इससे पाचन शक्ति बढ़ती है।

15. कोणासन (Konasana) – कोणासन विधि को खड़े होकर करते है। इससे हाथ और पैर मजबूत होते है।

16. सेतु बंध आसन (Setu Bandhasana) – यह बहुत आसान योग क्रिया है। इसमें सबसे पहले समतल पर पीट के बल लेट जाते है। फिर धीरे धीरे पीट को ऊपर उठाते है। हाथों से पैर को पकड़ लेते है। रीड की हड्डी लचीली और मजबूर होती है।

17. हलासन (Halasana) – यह थोड़ा मुश्किल आसन है। शुरुआत में इसे करना कठीन होता है। इस आसन में शरीर को हल की मुद्रा देनी होती है। इससे शरीर में लचीलापन आता है।

18. धनुरासन (Dhanurasana) – इस योग क्रीड़ा में शरीर की आकृति धनुष के समान होती है। शरीर में लचीलापन और पाचन शक्ति बढ़ती है।

19. कपालभाती (Kapalabhati) – ध्यान की मुद्रा में बैठकर सांस को अंदर बाहर करने की क्रिया कपालभाति कहलाती है। इस क्रिया में पेट को अंदर की और खींचते है। इस आसन को करने से पाचन तंत्र मजबूत होता है।

योगासन के नाम Yogasan Ke Naam –

20. शीर्षासन (Shirshasana) – इस आसन में सर के बल सीधे होते है। सर जमीन पर और पैर ऊपर की और होता है। इस आसन को करने से मस्तिष्क और बाकी शरीर में रक्त संचार होता है।

Yoga Asanas Name In Hindi – इन आसन मुद्राओं के अलावा योग में अनुलोम – विलोम विधि भी की जाती है। – एक समतल शांत जगह पर बैठकर यह क्रियाविधि की जाती है। इसमें अपने दाहिने हाथ के अंगूठे से दाएं नाक का छिद्र बंद करते है। बांए नाक छिद्र से सांस अंदर बाहर करते है। फिर उस छिद्र को अंगूठे के पास वाली उंगलियों से बंद करते है। यह क्रिया बांए नाक छिद्र को अंगूठे से बंद करके भी दोहराते है। अनुलोम विलोम करने से तनाव दूर होता है और मन को शांति मिलती है। आंखों की रोशनी बढ़ती है।

योग सूर्यास्त या सूर्योदय के समय ही करना श्रेस्ठ है। योग को खाली पेट करना चाहिए। योग करने के लिए शांत वातावरण का चुनाव करे।

यह भी पढ़े – 

Note – इस पोस्ट Yoga Asanas Name In Hindi में योगासन के नाम (Yogasan Ke Naam) व योगासन के प्रकार (Types Of Yoga Asanas In Hindi) पर जानकारी आपको कैसी लगी। यह आर्टिकल “Yogasan Name In Hindi” पसंद आया हो तो इसे फेसबुक और ट्विटर पर शेयर भी करे।

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *