Hyena In Hindi लकड़बग्घा की रोचक जानकारी

यह आर्टिकल Hyena In Hindi लकड़बग्घा (Lakadbagha Information In Hindi) के बारे में है। लकड़बग्घा कुत्ते की तरह दिखता है लेकिन कुत्ते की प्रजाति का जानवर नही है। यह एक जंगली जानवर है। लकड़बग्घा के बारे में जानकारी (Hyena Animal Information In Hindi) देने का प्रयास इस पोस्ट में है।

Hyena In Hindi

लकड़बग्घा की जानकारी Hyena In Hindi

1. लकड़बग्घा (Hyena) एशिया और अफ्रीका महाद्वीप में पाया जाता है। भारत देश में भी लकड़बग्घा मिल जाता है। अफ्रीका के सहारा रेगिस्तान में भी यह प्राणी पाया जाता है।

2. लकड़बग्घा की कुल 4 प्रजाति वर्तमान में जीवित है। इनमें धारीदार लकड़बग्घा, धब्बेदार लकड़बग्घा, भूरा लकड़बग्घा और कीटभक्षी लकड़बग्घा आता है।

3. धारीदार लकड़बग्घा की प्रजाति की संख्या सबसे ज्यादा है। अफ्रीका और एशिया महाद्वीप में यह बहुतायात से पाया जाता है। भूरे लकड़बग्घा केवल अफ्रीका के सीमित इलाको में पाये जाते है। भूरे लकड़बग्घा की प्रजाति की संख्या सबसे कम होती है।

4. धब्बेदार लकड़बग्घा की हंसी बहुत ही रोचक होती है। इसकी हंसी से उम्र और सामाजिक पद का पता  चलता है। लकड़बग्गा हंसकर यह बताता है कि उसे खाना मिल गया है।

5. यह प्राणी चिंपाजी से भी ज्यादा होशियार है। ये आपस में कम्युनिकेट भी करते है। सामाजिक समस्याओं को लकड़बग्गा सुलझा लेता है।

6. यह प्राणी कुत्ते की भांति दिखता है। इसका आकार और रंग काफी हद तक कुत्ते की तरह होता है। लेकिन रोचक बात यह है कि इसका नजदीकी सबन्ध बिल्ली से है।

7. इस प्राणी के आगे के पैर पीछे के पैरों से बड़े होते है। यह करीब 60 किलोमीटर प्रति घण्टा की रफ्तार से दौड़ भी लेता है।

8. मादा लकड़बग्घा नर से वजन में भारी होती है। इनका वजन करीब 80 किलोग्राम तक होता है। धब्बेदार लकड़बग्गा का आकार 6 फ़ीट तक होता है। भूरा लकड़बग्गा का आकार 5.25 फ़ीट होता है जबकि वजन 70 किलोग्राम तक होता है। धारीदार लकड़बग्गा का आकार 3.25 फ़ीट तक होता है जबकि वजन 40 किलोग्राम तक होता है।

Lakadbagha Information In Hindi लकड़बग्घा –

9. लकड़बग्घा (Hyena) के शरीर के बालों का रंग भूरा होता है। धारीदार लकड़बग्घा के हल्के काले रंग की धारिया भी होती है। धब्बेदार लकड़बग्घा के शरीर पर काले रंग के धब्बे होते है।

10. मादा के पास एक लिंग भी होता है। बच्चे का जन्म और पेशाब करना इसी लिंग से होता। है। कभी कभी बच्चा दम घुटने से मर भी जाता है।

11. केवल अलग अलग समूह के नर और मादा ही आपस में संबंध बनाते है। नर के जवान होने पर उसे समूह से निकाल दिया जाता है और वह किसी दूसरी समूह की मादा से सबन्ध बनाता है।

12. करीब तीन महीने की गर्भावस्था के बाद मादा लकड़बग्घा 2 से 4 बच्चों को जन्म देती है। समूह के अन्य जानवर बच्चे के लिए भोजन का प्रबंध करते है। करीब एक हफ्ते से भी ज्यादा समय तक बच्चे की आंखे बंद रहती है। बच्चा 6 माह तक माँ का दूध पीता है।

13. लकड़बग्गा समूह में पाया जाता है। इसके एक समूह में करीब 80 लकड़बग्गे होते है। लकड़बग्घा के ग्रुप में मादा की ज्यादा चलती है। मादा लकड़बग्घा ज्यादा आक्रमक होती है और नर को डराती भी है।

14. लकड़बग्घा जंगलो और घास के मैदानों में पाया जाता है। यह प्राणी रेगिस्तान में भी मिलता है।

15. लकड़बग्घा (Lakadbagha) एक मांसाहारी प्राणी है। यह मरे हुए जीवों को खाता है। यह प्राणी किसी दूसरे शिकारी जानवर द्वारा मारे गए जीव को खाता है।

16. कीटभक्षी लकड़बग्घा दीमक को खाता है। अन्य प्रजाति के लकड़बग्गे केवल मांस खाते है। इनके भोजन में सियार, पक्षी, मछली, लोमड़ी, छिपकली, अंडे इत्यादि आते है। ज्यादातर यह प्राणी झुंड में शिकार करता है। लकड़बग्घा रात को शिकार करना पसंद करता है।

Hyena Animal Information In Hindi –

17. यह प्राणी शिकार भी कर लेता है। शेर के बच्चे को उठाककर ले जाता है। शेर का सबसे बड़ा दुश्मन लकड़बग्गा है। कभी कभी यह प्राणी अपनी ही प्रजाति के लकड़बग्गा को खा जाता है।

18. लकड़बग्घा (Hyena) का जीवनकाल करीब 10 से 20 वर्ष तक होता है। भूरे रंग का लकड़बग्घा प्रजाति विलुप्ति की कगार पर है।

यह भी पढ़े  – 

Note – इस पोस्ट Hyena In Hindi में लकड़बग्घा की जानकारी (Lakadbagha Information In Hindi) आपको कैसी लगी। यह पोस्ट “Hyena Animal Information In Hindi” अच्छी लगी हो तो इसे शेयर भी करे।

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *