दूरबीन का आविष्कार व इतिहास Telescope In Hindi

इस पोस्ट History Of Telescope In Hindi में दूरबीन का आविष्कार किसने किया (Durbin Ka Avishkar Kisne Kiya) और इतिहास (Telescope Invention History) के बारे में जानकारी है। दूरबीन का आविष्कार एक महान खोज थी। ब्रह्माण्ड के अनसुलझे रहस्यों की परतें खोलने में दूरबीन का विशेष योगदान है। दूरबीन की मदद से दूर स्थित पिंडो को देखा जा सकता है। अंतरिक्ष में मौजूद ग्रहों को दूरबीन से निहारा जाता है। दूरबीन का आविष्कार किसने किया और दूरबीन का इतिहास इस आर्टिकल में जानने का प्रयास करते है।

History Of Telescope In Hindi

दूरबीन क्या है व इतिहास History Of Telescope In Hindi

दूरबीन (Telescope) एक ऑप्टिकल उपकरण है। इसे दूरदर्शी भी कहते है। दूरबीन को अंग्रेजी में टेलिस्कोप कहते है। दूर की वस्तुएं जिन्हें नंगी आंखों से देखना मुश्किल है। उन वस्तुओं को दूरबीन की मदद से आसानी से देखा जा सकता है। दूरबीन दूर की वस्तुओं को नजदीक दिखाता है। चांद या तारों को यह आपके सामने नजदीक ला देता है। यह ऑब्जेक्ट या वस्तु के आकार को ज़ूम करता है। इसी कारण वह वस्तु नजदीक दिखती है। दूरबीन में लेंस लगे होते है जो वस्तुओं को नजदीक दिखाते है।

टेलिस्कोप दूरबीन के आविष्कार से पहले दूर की वस्तुओं को देखना नामुमकिन था लेकिन इसके आविष्कार ने सम्भव कर दिया। दूरबीन एक चमत्कार की तरह है, जब दूरबीन का आविष्कार हुआ था तब लोगो को यह चमत्कार की भांति लगा था।

दूरबीन का आविष्कार किसने किया Invention Of Telescope In Hindi

दूरबीन का आविष्कार किसने किया था (Durbin Ka Avishkar Kisne Kiya)? इस प्रश्न का जवाब कई लोग गैलिली गैलिलियो देते है। गैलिलियो ने दूरबीन बनाया जरूर था लेकिन वह दुनिया का पहला दूरबीन नही था। दुनिया के पहले दूरबीन का आविष्कार जर्मनी के हैन्स लिपरशी ने किया था।

वैसे यह पुख्ता जानकारी नही है कि उन्हीने ही दुनिया का पहला दूरबीन बनाया था लेकिन दूरबीन का पेटेंट हासिल करने का आवेदन उन्होंने ही किया था। हैन्स लिपरशी चश्मा बनाने का काम करता था। उसके चश्मा बनाने की बड़ी दुकान थी। उसने कुछ लैंस को आपस में मिलाकर देखा तो वो भोचक्का रह गया क्योंकि उनसे वस्तुए बड़ी दिख रही थी।

गैलिली गैलिलियो का दूरबीन Telescope Invention By Galileo Galilei

दूरबीन का आविष्कार (Telescope Invention In Hindi) की यह खबर पूरी दुनिया में आग की तरह फैल गयी। महान खगोलविद गैलिली गैलिलियो ने भी इस खबर को सुना। गैलिलियो ने फैसला किया कि वो भी एक दूरबीन बनाएंगे जो उससे भी ज्यादा शक्तिशाली होगा। अब तक गैलिलियो ने दूरबीन को देखा भी नही था और दूरबीन बनाने का सन्कल्प कर लिया था।

गैलिली गैलिलियो ने दुनिया की सबसे शक्तिशाली दूरबीन बनाई जो चीजों को कई गुना बड़ी करके दिखाती थी। गैलिलियो ने अपने इस दूरबीन की सहायता से सौरमण्डल को देखा था। उन्होंने दूरबीन की सहायता से बृहस्पति ग्रह के 4 उपग्रहों की खोज की थी। वो गैलिलियो ही थे जिन्होंने बताया कि सारे ग्रह सूर्य के चारों तरफ चक्कर लगाते है।

गैलिली गैलिलियो के बाद महान भौतिक वैज्ञानिक सर आइजेक न्यूटन ने दूरबीन में सुधार करके परावर्तक दूरबीन का आविष्कार किया था। उन्होंने लेंस की जगह दर्पण का प्रयोग किया जिससे वस्तु की छवि साफ हुई। विलियम हर्शेल नामक वैज्ञानिक ने और भी शक्तिशाली दूरबीन की मदद से अरुण ग्रह की खोज की थी। सर्वप्रथम हमारी आकाशगंगा मिल्की वे का अध्ययन दूरबीन की मदद से उन्होंने ही किया था।

दूरबीन के प्रकार Telescope Or Durbin Types In Hindi

दूरबीन या टेलीस्कोप दो प्रकार की होती है।

1. परावर्तक दूरबीन (Refracting Telescope) – यह दूरबीन किसी भी वस्तु का प्रतिबिंब नजदीक दिखाने के लिए विद्युत चुम्बकीय स्पेक्ट्रम का उपयोग करती है। इस दूरदर्शी में लेंस की जगह दर्पण का इस्तेमाल होता है। वस्तु को सीधे आंख से दूरबीन में देख सकते है।

2. अपवर्तक दूरबीन (Reflecting Telescope) – अपवर्तक दूरदर्शी दो प्रकार के होते है – खगोलीय दूरदर्शी और प्रकाशीय दूरदर्शी। खगोलीय दूरदर्शी का उपयोग आकाशीय पिंडो को देखने में होता है। इस दूरबीन में वस्तु की इमेज उल्टी बनती है। प्रकाशीय दूरदर्शी एक आम दूरबीन है जिसका इस्तेमाल पृथ्वी पर मौजूद वस्तुओं को देखने में होता है।

वर्तमान में लाखों गुना शक्तिशाली दूरबीन बन चुके जो ब्रह्मांड को निहार रहे है। इन दूरबीन की सहायता से नित्य नई खोजे की जा रही है। करोड़ो प्रकाशवर्ष दूर स्थित ग्रह और तारों को हम पृथ्वी से देख रहे है। दुनिया का सबसे शक्तिशाली दूरबीन हब्बल टेलिस्कोप अंतरिक्ष में स्थापित है। इस दूरबीन का नाम हबल महान वैज्ञानिक एडविन हबल पर रखा गया है।

टेलिस्कोप का आविष्कार Who Invented Telescope

दूरबीन (Telescope) ने ब्रह्मांड के पिंडो की हमसे दूरियां कम कर दी है। सुदूर अंतरिक्ष में मौजूद पिंडों को दूरबीन की मदद से देखा जा सकता है। चांद की सतह पर बने गड्डों को भी आसानी से देख सकते है। सौरमण्डल के ग्रहों को निहार सकते है। पृथ्वी पर प्रकृति के मनोरम दृश्य का आनन्द भी लिया जा सकता है। दूरबीन का उपयोग सेना, नाविक और खगोलविदों के द्वारा ज्यादा किया जाता है।

Note – इस पोस्ट History Of Telescope In Hindi में दूरबीन का आविष्कार किसने किया (Durbin Ka Avishkar Kisne Kiya) और इतिहास (History Of Telescope Invention In Hindi) के बारे में जानकारी कैसी लगी। यह आर्टिकल “Who Invented Telescope In Hindi” अच्छा लगा हो तो इसे शेयर भी करे।

You May Also Like

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *