Fundamentals Of Computer In Hindi Notes | कंप्यूटर फंडामेंटल्स

Fundamentals Of Computer In Hindi

इस लेख Fundamentals Of Computer In Hindi With Details में कंप्यूटर फंडामेंटल्स नोट्स (Computer Notes In Hindi) के बारे में सामान्य जानकारी है। कंप्यूटर व्यापक उपयोग होने वाला एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है। यह एक इलेक्ट्रॉनिक मशीन है जो विभिन्न प्रकार के Programs को Execute करती है।

“Computer Fundamentals Hindi Notes” में कंप्यूटर की विशेषता और कंप्यूटर के बेसिक हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के बारे में जानने का प्रयास करेंगे। कंप्यूटर का इतिहास, प्रकार और जेनरेशन की चर्चा भी इस पोस्ट “कंप्यूटर के बारे में जानकारी” में करेंगे।

कंप्यूटर फंडामेंटल्स के बारे में जानकारी – Fundamentals Of Computer In Hindi {Notes}

Computer Fundamentals – कंप्यूटर का बेसिक कार्य User से Data लेकर उसे Processing करना होता है। प्रोसेसिंग के बाद “Raw Data” उपयोगी डाटा या इन्फॉर्मेशन में बदल जाता है। इस Simple Process को इस प्रकार से दर्शाया जा सकता है –

डाटा इनपुट – डाटा प्रोसेस – डाटा आउटपुट।

इनपुट डाटा “Raw Data” होता है जो टेक्स्ट, नम्बर, इमेज, वीडियो, ऑडियो हो सकता हैं। जबकि आउटपुट डाटा एक उपयोगी इंफॉर्मेशन होती है। डाटा प्रोसेसिंग के लिए CPU की तीन यूनिट काम में आती है –

  • CU (Control Unit)
  • ALU (Arithmetic Logic Unit)
  • MU (Memory Unit)

User डाटा को इनपुट करता है और इस कार्य के लिए Input हार्डवेयर का इस्तेमाल करता है। आउटपुट के लिए Output हार्डवेयर का इस्तेमाल होता है। डाटा प्रोसेसिंग के लिए उपयोग होने वाले डिवाइस Processing Hardware कहलाते है।

कंप्यूटर के बारे में जानकारी – Computer Notes In Hindi

A. कंप्यूटर में उपयोग आने वाले हार्डवेयर Computer Hardware

Data प्रोसेसिंग के बाद मॉनिटर पर दिखाई देता है। कंप्यूटर Processed Data को हार्डडिस्क में स्टोर भी करता है। भविष्य में इस सुरक्षित डाटा को वापस उपयोग में लिया जा सकता है। इस Processed Data को प्रिंट भी दिया जा सकता है।

B. कंप्यूटर के मुख्य सॉफ्टवेयर Computer Software
कंप्यूटर में मुख्यतः दो प्रकार के सॉफ्टवेयर होते है।

1. सिस्टम सॉफ्टवेयर (System Software) – यह कंप्यूटर का मुख्य Software है। इसके बिना कंप्यूटर बूट भी नही होता है। अन्य प्रकार के सॉफ्टवेयर को run करने में System Software जिम्मेदार होता है। इस सॉफ्टवेयर को कंप्यूटर ऑपरेटिंग सिस्टम भी कहते है। सामान्य भाषा में आप इसे विंडो भी कहते है। उदाहरण – Window 7, 10, XP इत्यादि।

2. एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर (Application Software) – सिस्टम सॉफ्टवेयर को इंस्टाल करने के बाद कंप्यूटर में उपयोगी Applications Install की जाती है। कंप्यूटर में एप्लिकेशन आपकी जरूरत के मुताबिक होती है। जैसे अगर आपको इंटरनेट ब्राउज करना है तो Computer में Web Browser Install करना पड़ता है। ऑफिस सबन्धी कार्यो में MS Office Package Application इंस्टाल करनी होती है।

3. कंप्यूटर ड्राइवर (Computer Driver) – Computer में हार्डवेयर को Run करने के लिए उस Particular हार्डवेयर का ड्राइवर भी होना जरूरी है। ड्राइवर एक तरह का सॉफ्टवेयर है जो Hardware को निर्देश देता है। उदाहरण के तौर पर प्रिंटर इस्तेमाल करने के लिए उसका Driver कंप्यूटर में होना जरूरी है।

कंप्यूटर की विशेषता Features Of Computer

Computer Fundamentals In Hindi कंप्यूटर फंडामेंटल्स –

1. Computer की मुख्य विशेषता उसकी गति होती है। यह मशीन तेज गति से गणना करती है। कुछ ही सेकंडों में डाटा को Process कर देती है।

2. कंप्यूटर हाई स्टोरेज कैपेसिटी का होता है। अधिक क्षमता की इन्फॉर्मेशन को भी सेव किया जा सकता है। कंप्यूटर में मौजूद हार्डडिस्क (Hard Disk Drive) डाटा को स्टोर करती है। हार्डडिस्क 160 GB, 250 GB, 500 GB, 1000 GB इत्यादि विभिन्न क्षमताओं में आती है।

3. कंप्यूटर में DATA या Information स्थायी रूप से स्टोर होती है। जब आप किसी भी फ़ाइल को डिलीट करना चाहेंगे, तब वह फ़ाइल डिलीट होगी।

4. Computer के द्वारा किये गए किसी भी कार्य की Accuracy 100% होती है। कंप्यूटर के द्वारा गलती होने की संभावना ना के बराबर होती है। कंप्यूटर केवल हमारे निर्देशो का पालन करता है।

5. कंप्यूटर की एक और विशेषता उसकी मल्टीटास्किंग है। एक साथ कई एप्लिकेशन को Run करना कंप्यूटर की प्रमुख विशेषता है।

6. कंप्यूटर यूजर के दिये प्रत्येक निर्देश को बिना रुके और थके पूरा करता है। इसको कभी भी थकान नही होती है। हम इंसान कोई कार्य करते है तो एक वक्त पर हमें थकान होती है लेकिन कंप्यूटर के साथ ऐसा नही है।

7. Computer की मुख्य विशेषताओं में उसकी विविधता भी है। कंप्यूटर केवल एक ही प्रकार का कार्य नही करता है। वो भिन्न भिन्न प्रकार के काम करता है। चाहे वीडियो देखना हो, गाने सुनने हो, टाइपिंग करनी हो, प्रेजेंटेशन तैयार करना हो, इंटरनेट एक्सेस करना हो इत्यादि कई प्रकार के कार्य कंप्यूटर करता है।

8. कंप्यूटर में Stored फ़ाइल सिक्योर होती है। आप पासवर्ड या बायोमेट्रिक ऑथेंटिकेशन से कंप्यूटर को सुरक्षित कर सकते है। किसी भी स्पेशल फ़ाइल को गुप्त रूप से छिपा सकते है।

9. कंप्यूटर में IQ जीरो होता है क्योंकि यह कोई भी कार्य यूजर के निर्देश के बिना नही करता है। इसका आशय यह है कि कंप्यूटर को कार्य करवाने के लिए यूजर का निर्देश देना जरूरी है।

10. कंप्यूटर को एक बार निर्देश देने के बाद वह स्वचालित कार्य करता है। उदाहरण के तौर पर अगर आप प्रिंटर से प्रिंट देते हो तो वह स्वचालित रूप से कार्य करते हुए प्रिंट देता है।

Computer Fundamentals Notes In Hindi (कंप्यूटर फंडामेंटल्स)

(A.) कंप्यूटर का सामान्य इतिहास और जनरेशन Computer History And Generation –

कंप्यूटर का आविष्कार चार्ल्स बैबेज ने किया था। इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए चार्ल्स बैबेज की जीवनी पढ़े। Computer का इतिहास उसकी पीढ़ियों के साथ चलता है। प्रथम पीढ़ी से लेकर आज तक कंप्यूटर में कई बदलाव आए है। कंप्यूटर की क्षमता और गति में समय के साथ बढ़ौतरी हुई है। कंप्यूटर के इतिहास और जनरेशन के बारे में अधिक जानकारी के लिए यह पोस्ट पढ़े – कंप्यूटर का इतिहास व जनरेशन

(B.) Computer Types – कंप्यूटर क्षमताओं के आधार पर चार प्रकार के होते है।

  • सुपर कंप्यूटर (Super Computer) – यह सवसे शक्तिशाली कंप्यूटर है। यह मल्टी ऑपरेटर है।
  • मेनफ़्रेम कंप्यूटर (Mainframe Computer) – यह सुपर कंप्यूटर से कम शक्तिशाली होता है। यह भी मल्टी ऑपरेटर है।
  • मिनी कंप्यूटर (Mini Computer) – यह मेनफ़्रेम से कम शक्तिशाली होता है। यह सिंगल या मल्टी ऑपरेटर होता है।
  • माइक्रो कंप्यूटर (Micro Computer) – इसे डेस्कटॉप या पर्सनल कंप्यूटर भी कहते है। यह सिंगल ऑपरेटर होता है।

कंप्यूटर के प्रकार के बारे में अधिक जानकारी के लिए यह पोस्ट पढ़े – कंप्यूटर के प्रकार और जानकारी

Computer का उपयोग दुनिया के लगभग हर क्षेत्र में होता है। कंप्यूटर ऑफिस, बैंक, अस्पताल इत्यादि जगहों पर प्रयोग किये जाते है। स्कूलों में भी कंप्यूटर शिक्षा का प्रसार किया जाता है। व्यापार में कंप्यूटर का उपयोग अनिवार्य रूप से होने लगा है। मेडिकल या हॉस्पिटल में भी Computer इस्तेमाल होता है। अंतरिक्ष अनुसंधान या खोजो में कंप्यूटर उपयोग होता है। सरकारी दफ्तरों में भी काफी कार्य Computer की मदद से ही होता है।

Note – इस पोस्ट Fundamentals Of Computer In Hindi में कंप्यूटर फंडामेंटल्स, कंप्यूटर की विशेषता और कंप्यूटर नोट्स (Computer Notes In Hindi) पर जानकारी कैसी लगी। “कंप्यूटर के बारे में जानकारी” पर यह आर्टिकल आपको अच्छा लगा हो तो इसे शेयर भी करे।

About the Author: Knowledge Dabba

नॉलेज डब्बा ब्लॉग टीम आपको विज्ञान, जीव जंतु, इतिहास, तकनीक, जीवनी, निबंध इत्यादि विषयों पर हिंदी में उपयोगी जानकारी देती है। हमारा पूरा प्रयास है की आपको उपरोक्त विषयों के बारे में विस्तारपूर्वक सही ज्ञान मिले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *