बैटरी क्या है, प्रकार व आविष्कार What Is Battery In Hindi

बैटरी क्या है What Is Battery In Hindi

इस पोस्ट What Is Battery In Hindi में बैटरी क्या है, बैटरी का आविष्कार किसने किया और बैटरी के प्रकार (Battery Types In Hindi) पर बात करेंगे। बैटरी विद्युत के स्टोरेज और उपयोग के लिए इस्तेमाल की जाती है। बैटरी का उपयोग घर पर, कार्यालय में, फैक्टरियों में इत्यादि जगहों पर किया जाता है। बैटरी की क्रियाविधि और संरचना के बारे में जानने का प्रयास करेंगे। बैटरी का इस्तेमाल कहा होता है और कोनसे उपकरणों में इसे यूज़ करते है। तो आइए बैटरी के बारे में (Battery Information In Hindi) जानते है।

What Is Battery In Hindi

बैटरी क्या होती है Battery Kya Hai –

बैटरी (Battery In Hindi) दो या दो से ज्यादा इलेक्ट्रॉ कैमिकल सेल्स से मिलकर बनती है। बैटरी डायरेक्ट करंट (DC) सप्लाई करती है। इसलिए हमें ऐसे उपकरण की आवश्यकता होती है जो DC को AC (Alternative Current) में बदल सके। इसके लिए इन्वर्टर का इस्तेमाल होता है। बैटरी से विद्युत उपयोग के समय में करंट Positive टर्मिनल से Negative टर्मिनल की और जाता है। इसे डिसचार्ज क्रिया कहते है। बैटरी चार्जिंग प्रक्रिया में करंट Negative से Positive की और बहता है।

Battery में इलेक्ट्रोलाइट प्लेट्स से रासायनिक क्रिया करता है। इस क्रिया के द्वारा विद्युत पैदा होती है। इसे ऑक्सीडेशन क्रिया कहते है। सामान्य शब्दो मे कहे तो बैटरी रासायनिक ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में बदलती है।

विद्युत बैटरी में दो टर्मिनल होते है जिनमें एक एनोड और दूसरा कैथोड कहलाता है। एनोड पॉजिटिव और कैथोड नेगेटिव होता है। इलेक्ट्रान एनोड से कैथोड की तरफ प्रवाहित होते है। सबसे ज्यादा उपयोग होने वाली बैटरी का नाम लेड एसिड है। इस बैटरी की मुख्य ख़ासियत रीसाइक्लिंग होती है। इसे बार बार रिचार्ज किया जा सकता है। बैटरी को प्रथम बार चार्ज करने के लिए कम करंट दिया जाता है। इसे पहली बार में धीरे धीरे चार्ज करते है।

बैटरी का आविष्कार किसने किया Battery Ka Avishkar Kisne Kiya –

विद्युत बैटरी का आविष्कार इटली के वैज्ञानिक अलेक्सन्द्रों वोल्टा ने किया था। इनके द्वारा बनाई गई पहली बैटरी नॉन रिचार्जेबल थी। इसे केवल एक ही बार इस्तेमाल किया जा सकता था। बेंजामिन फ्रेंकलिन ने बैटरी नाम दिया था।

बैटरी की संरचना के बारे में जानकारी Battery Information In Hindi –

विद्युत बैटरी (Battery) में कई उपकरण होते है जिनसे मिलकर बैटरी बनती है।

1. कंटेनर (Container) – यह बैटरी का बाहरी खोल या आवरण होता है जिसमें बैटरी सुरक्षित होती है। यह खोल मजबूत प्लास्टिक का बना होता है। इस कंटेनर में पॉजिटिव और नेगेटिव प्लेट्स को सेपरेट करने के लिए खांचे बने होते है। सेपरेटर कुचालक प्रदार्थ के होते है जिनमें विद्युत का प्रवाह नही होता है। अगर बैटरी में सेपरेटर ना हो तो शार्ट सर्किट हो जाता है।

कंटेनर को ऊपर की तरफ से सेल कवर की मदद से ढका जाता है। यह ठोस रबर से बना होता है। इसका कार्य प्लेट्स और इलेक्ट्रोलाइट को सुरक्षित रखना होता है। सेल कवर के ऊपर पॉजिटिव और नेगेटिव टर्मिनल लगाए जाते है।

2. प्लेट्स (Plates) – बैटरी के कंटेनर के भीतर प्लेट्स होती है। प्लेट्स पॉजिटिव और नेगेटिव दो प्रकार की होती है। नेगेटिव प्लेटेस की संख्या पॉजिटिव से एक ज्यादा होती है।

3. इलेक्ट्रोलाइट (Electrolyte) – इसे आम भाषा में तेजाब भी कहते है। यह एक प्रकार का लिक्विड होता है जिसमें प्लेट्स को डुबोकर रखते है। इलेक्ट्रोलाइट में सल्फ्यूरिक अम्ल और पानी का मिश्रण होता है। इसी लिक्विड में प्लेटों के मध्य रासायनिक क्रिया होती है।

बैटरी के प्रकार Battery Types In Hindi –

Battery मुख्यतः दो प्रकार की होती है।

1. रिचार्जेबल (Rechargeable) – इस प्रकार की बैटरी को बार बार चार्ज किया जा सकता है। मोबाइल या किसी भी अन्य बैटरी वाले डिवाइस में लिथियम आयन बैटरी का इस्तेमाल होता है। इन्वर्टर में उपयोग होने वाली बैटरी भी रिचार्जेबल होती है। इन बैटरियों में रिचार्जिंग और डिसचार्जिंग दोनों क्रियाएं होती है।

2. नॉन रिचार्जेबल (Non Rechargeable) – इस प्रकार की बैटरी को चार्ज नही किया जा सकता है। इन्हें यूज़ एंड थ्रो भी कहते है। एक बार पावर खत्म होने के बाद वायस रिचार्ज नही की जा सकती है। जैसे कि रिमोट की बैटरी, टॉर्च बैटरी, घड़ी की बैटरी इत्यादि नॉन रिचार्जेबल बैटरीज है।

बैटरी का उपयोग विभिन्न उपकरणों में किया जाता है। मुख्य उपकरण –
इन्वर्टर, मोबाइल, कार, बाइक, कंप्यूटर यूपीएस इत्यादि।

बिजली नही आने की दशा में बैटरी के द्वारा विधुत उपकरण जैसे कि टीवी, पंखा, बल्ब चलाये जाते है। यहां तक कि आपकी घड़ी या टीवी के रिमोट में भी सेल होते है। इसलिए इमरजेंसी उपयोग में बैटरी का व्यापक इस्तेमाल होता है।

यह भी पढ़े – 

Note – इस पोस्ट What Is Battery In Hindi में बैटरी क्या है (Battery Kya Hai), बैटरी के प्रकार (Battery Types In Hindi) व बैटरी का आविष्कार किसने किया (Battery Ka Avishkar Kisne Kiya) पर जानकारी कैसी लगी। यह पोस्ट “Battery Information In Hindi” अच्छी लगी हो तो इसे शेयर भी करे।

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *