पुस्तकों पर निबंध Essay On Books In Hindi

Essay On Books In Hindi

यह पोस्ट Essay On Books In Hindi पुस्तकों पर निबंध (Pustak Par Nibandh) के बारे में है। पुस्तक ज्ञान का सागर है। मनुष्य जीवन में पुस्तक अहम भूमिका का निर्वाह करती है। दुनिया की किसी भी चीज के बारे में जानकारी पुस्तकों में होती है। वर्तमान इंटरनेट युग में पुस्तकों का उपयोग कम हुआ है लेकिन महत्व अभी भी है। पुस्तक पर निबंध (Pustak Essay In Hindi) की चर्चा इस पोस्ट में करने का प्रयास है।

पुस्तकों पर निबंध Essay On Books In Hindi

पुस्तक (Book) बचपन से हमारी मित्र होती है। स्कूल की पढाई से लेकर कॉलेज तक किताबों से हमारा मित्रता का रिश्ता होता है। क, ख, ग से लेकर अल्फा बीटा तक कि पढ़ाई हम पुस्तकों के माध्यम से करते है। पुस्तक से हमारे मन का अंधकार दूर होता है। बच्चों को खासकर प्रेरणादायक कहानियों वाली किताबें पढ़नी चाहिए। इससे उनका चरित्र निर्माण होगा और उन्हें ईमानदारी की सीख मिलेगी। बच्चों को देशप्रेम का पाठ पुस्तक के माध्यम से देना भी श्रेस्ठ जरिया है। स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान के बारे में जानकारी पुस्तक के जरिये दी जाती है।

पुस्तक स्वाध्ययन का श्रेस्ठ जरिया है। ज्ञान पाने के दो तरीके हिन्दू शास्त्र में बताए गए है। पहला तरीका सत्संग है अर्थात गुरु के सानिध्य में रहकर सीखना और दूसरा तरीका स्वाध्ययन है अर्थात पुस्तक पढ़ना। पुस्तक हमारा संसार के भंवर चक्र में मार्गदर्शन करती है। समस्त विश्व का ज्ञान पुस्तक में है।

बच्चों को पुस्तक के जरिये ही ज्ञान देना चाहिए। इंटरनेट पर अच्छा और बुरा दोनों तरह का ज्ञान मौजूद है। बच्चा इंटरनेट पर कुछ भी देख सकता है जिससे उसे गलत सीख मिल सकती है। इसलिए बच्चों के अच्छे भविष्य के लिए किताब पढ़ना सर्वश्रेष्ठ है।

पुस्तकों पर निबंध Pustak Par Nibandh –

पुस्तक या किताब (Book) कई विषयों पर होती है। गणित, विज्ञान, भाषा, जीवनी इत्यादि विषयों पर किताबें बाजार में मिल जाती है। मनोरंजन के लिए भी पुस्तकें आती है। इनमें उपन्यास, कॉमिक्स इत्यादि किताबें मनोरंजन से भरपूर होती है। कुछ पुस्तकें साहित्यिक ज्ञान से परिपूर्ण होती है। इनमें कविताओं, गद्य, कहानियों का अद्भुत संग्रह होता है।

चाहे इंजीनियरिंग की पढ़ाई हो या डॉक्टरी की पढ़ाई हो, पुस्तक हमेशा ज्ञान के लिए उपलब्ध है। विभिन विषयों की मोटी किताबें कॉलेज की पढ़ाई में पढ़नी होती है। प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने में भी किताबें सहायक होती है। धार्मिक किताबों को पढ़कर मन और आत्मा को शान्ति मिलती है। हमारे देश का संविधान भी पुस्तक के रूप में मौजूद है।

दुनिया के इतिहास का ज्ञान पुस्तक के जरिये ही हमे मिला है। पुस्तकों में लिखे ऐतिहासिक तथ्य आज भी सुरक्षित है। ऐसा भी कह सकते है की पुस्तक ज्ञान को सुरक्षित करने का बेहतरीन जरिया है। पुराने समय में मनुष्य जीवन कैसा था? किस देश में किस राजा का शासन था? प्राचीन समय में सामाजिक परिवेश कैसा था? किसी महान दार्शनिक, वैज्ञानिक के विचार और आविष्कार क्या थे? इन सारे प्रश्नों का उत्तर हमे पुस्तकों में मिलता है। पुस्तक में उस समय का ज्ञान प्राप्त होता है जिस समय या कालखंड में हम मौजूद नही है।

पुस्तक का महत्व Pustak Essay In Hindi –

किसी भी पुस्तक (Book) को लिखने वाला लेखक कहलाता है। पुस्तक लेखक की कल्पना, भावना और ज्ञान का दर्पण होती है। पुस्तक के माध्यम से लेखक ज्ञान रूपी प्रकाश को फैला देता है। पुस्तक को लिखने वाले लेखक भी दुनिया से चले जाते है लेकिन पुस्तक हमेशा रहती है। पुस्तक किसी भी लेखक के नाम और काम को अमर कर देती है। अरस्तू, शेक्सपियर जैसे महान दार्शनिक और साहित्यकार दुनिया को कब का छोड़ चुके है लेकिन उनका काम पुस्तकों में अभी भी जीवित है।

पुराने समय में पुस्तक हस्तलिखित होती थी क्योंकि तब प्रिटिंग की सुविधा नही थी। लेखक ज्ञान को कलम के द्वारा पन्ने पर उतारते थे। उस समय लिखने के लिए ताम्रपत्र या भोजपत्र का इस्तेमाल होता था। उस समय में पुस्तकें कम लिखी जाती थी। ज्यादातर ज्ञान का आदान प्रदान बोलकर और कंठस्थ करके होता था। आजकल तो लगभग हर विषय पर कई लेखकों की पुस्तकें उपलब्ध है। पुस्तकों में भाषा का भी बंधन नही रहा है। वर्तमान में पुस्तक हिंदी, अंग्रेजी, उर्दू विभिन्न भाषाओं में उपलब्ध हो जाती है।

किताबों का महत्व Importance Of Books Essay In Hindi –

आज इंटरनेट का जमाना है। ज्ञान को गूगल किया जाता है। किसी भी विषय के बारे में जानने के लिए इंटरनेट पर सर्च करना आम बात हो गयी है। इंटरनेट ज्ञान अर्जित करने का आसान जरिया है और इसके उपयोग से पुस्तकों का इस्तेमाल कम हुआ है। फिर भी पुस्तक का महत्व बना हुआ है। स्कूल में आज भी पढ़ाई पुस्तकों से होती है। इंटरनेट से ज्ञान तभी अर्जित किया जा सकता है जब आपके पास इंटरनेट कनेक्शन हो, स्मार्टफोन हो। अगर आपके पास पुस्तक है तो इनमे से किसी भी चीज की जरूरत नही है।

पुस्तक (Books) आप कही से भी खरीद सकते है। अगर आपके पास पैंसे नही है तो नजदीक के किसी पुस्तकालय में जाकर पढ़ सकते है। सरकारी स्कूल में पुस्तक मुफ्त मिलती है। पुस्तक ज्ञान अर्जित करने का एक सस्ता और अच्छा जरिया है।

पुस्तक भविष्य को ज्ञान देने के लिए लिखी जाती है। अतीत की यादों को समेटने का बेहतरीन जरिया पुस्तक है। हमें हर कालखंड का उत्तम ज्ञान पुस्तकों से मिलता है।

यह भी पढ़े –

Note – इस पोस्ट Essay On Books In Hindi में पुस्तकों पर निबंध (Pustak Par Nibandh) कैसा लगा। पुस्तकों का महत्व पर निबंध (Importance Of Books Essay In Hindi) आपको अच्छा लगा हो तो इस आर्टिकल “Pustak Essay In Hindi” को फेसबुक और ट्विटर पर शेयर भी करे।

You May Also Like

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *