हॉर्नबिल पक्षी की रोचक जानकारी Hornbill Bird In Hindi

हॉर्नबिल पक्षी Hornbill Bird In Hindi को हिंदी में “धनेश पक्षी” भी कहते है। Hornbill In India में भी पाया जाता है। इस पक्षी की विशिष्ट पहचान इसकी नीचे मुड़ी हुई चोंच होती है जिसके उपर उभार होता है। हॉर्नबिल पक्षी के बारे में सामान्य जानकारी (Hornbill Bird Information In Hindi) के लिए यह आर्टिकल पूरा पढ़े।

Hornbill Bird In Hindi

हॉर्नबिल पक्षी की जानकारी Hornbill Bird In Hindi

1. हॉर्नबिल पक्षी (Hornbill Bird) एशिया, अफ्रीका, मलेशिया में मुख्यतः मिलता है। भारत में भी हॉर्नबिल पाया जाता है। इसकी मुख्यतः 55 प्रजाति संसारभर में मिलती है। भारत में 9 प्रजाति पायी जाती है। भारत की मुख्य प्रजाति इंडियन ग्रे हॉर्नबिल है।

2. हॉर्नबिल पक्षी का आकार विभिन्न प्रजातियों के अनुसार अलग अलग होता है। इनका आकार 30 सेंटीमीटर से करीब 4 फुट तक होता है। किसी प्रजाति का वजन 100 ग्राम तो किसी का वजन 6 किलोग्राम तक होता है।

3. नर हॉर्नबिल पक्षी मादा से आकार और वजन में ज्यादा होता है।

4. हॉर्नबिल की चोंच इसकी विशेष पहचान होती है। इसकी चोंच भारी है जो उसकी मजबूत गर्दन से जुड़ी होती है। चोंच नीचे की तरफ मुड़ी होती है जिस पर सिंग की तरह दिखने वाला उभार है। इसलिए इस पक्षी को हॉर्नबिल (Hornbill) कहते है।

5. हॉर्नबिल की मजबूत चोंच पेड़ पर बिल बनाने और शिकार करने में उपयोग आती है।

6. हॉर्नबिल पक्षी (Hornbill Bird) की जीभ छोटी होती है। इससे चोंच की नोक पर मौजूद भोजन को यह निगल नही पाता है। इसलिए भोजन को निगलने के लिए गर्दन को पीछे की और झटका देना पड़ता है।

7. यह पक्षी मुख्यतः सर्वाहारी है। इसका मुख्य भोजन फल, कीड़े या छोटे जानवर होते है। कुछ प्रजाति केवल फल खाती है तो कुछ सर्वाहारी होती है। हॉर्नबिल छोटे पक्षियों को भी खा जाता है। ज्यादातर पक्षी जंगलो में रहते है और फलों को मुख्यतः खाते है। घास के मैदानों में रहने वाला हॉर्नबिल सर्वाहारी है।

8. हॉर्नबिल या धनेश पक्षी दिन के समय सक्रिय रहता है। रात को यह पक्षी आराम करना पसंद करता है।

Hornbill Bird Information In Hindi हॉर्नबिल पक्षी –

9. कुछ प्रजाति के पक्षी मनुष्य से नही डरते है और उनके पास आ जाते है। कुछ प्रजाति के हॉर्नबिल सामने आने से डरते है और जंगलो में छुपे हुए रहते है।

10. हॉर्नबिल पक्षी (Hornbill Bird) पेडो में बने कोटर या हॉल में रहते है। यही उनका निवास स्थान होता है।

11. मादा पक्षी इसी कोटर में करीब 2 से 6 अंडे देती है। अंडों की संख्या हॉर्नबिल की प्रजाति पर निर्भर है। अंडों से बच्चे निकलने तक मादा हॉर्नबिल कोटर में ही रहती है। अंडों से बच्चे निकलने का समय 25 से 50 दिन होता है। भोजन प्रबंध का कार्य नर हॉर्नबिल करता है।

12. बच्चों के वयस्क होने तक कोटर की शिकारियों से हिफाजत की जाती है। इसके लिए नर घोंसले को सील कर देता है जिसमें केवल भोजन देने का छेद रहता है। इस छेद के जरिये नर हॉर्नबिल मादा और बच्चो को भोजन देता है। बच्चो के बड़े होने पर मादा हॉर्नबिल घोंसले पर बनी दीवार को हटा देती है।

13. कुछ हॉर्नबिल प्रजाति झुंड में पायी जाती है। ज्यादातर पक्षी जोड़े या परिवार में होते है। प्रजनन के समय भी यह जोड़ा बनाता है। हॉर्नबिल पक्षी का बनाया जोड़ा जीवनभर रहता है।

धनेश पक्षी की जानकारी Dhanesh Bird –

14. धनेश या हॉर्नबिल पक्षी केरल और अरुणाचल प्रदेश का राज्य पक्षी भी है।

15. इस पक्षी का बहुत ज्यादा शिकार हो रहा है। इसके कारण इसकी संख्या में भारी कमी आयी है। हॉर्नबिल को संरक्षण देने की आवश्यकता है।

16. हॉर्नबिल पक्षी (Hornbill Bird) का औसत जीवनकाल 20 वर्ष का होता है। कुछ प्रजाति 50 साल भी जीवित रह जाती है।

यह भी पढ़े – 

नोट – हॉर्नबिल पक्षी Hornbill Bird In Hindi के बारे में जानकारी कैसी लगी। यह पोस्ट “Hornbill Bird Information In Hindi” अच्छी लगी हो तो इसे “Hornbill In India” शेयर भी करे।

You May Also Like

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *