What Is ROM In Hindi रोम क्या है व प्रकार

दोस्तो, यह पोस्ट What Is ROM In Hindi कंप्यूटर रोम क्या है (ROM Kya Hai), इसके प्रकार (Types Of ROM) और कार्य के बारे में है। ROM कंप्यूटर का अभिन्न अंग है। यह एक प्राथमिक कंप्यूटर मेमोरी है। रोम कंप्यूटर में कहा लगती है और इसकी संरचना कैसी होती है, इन सभी प्रश्नों के उत्तर देने का पूरा प्रयास है।

ROM In Hindi

कंप्यूटर रोम क्या है What Is ROM In Hindi –

सामान्य शब्दो में कहे तो ROM एक प्राइमरी मेमोरी है। रैम के साथ ही यह कंप्यूटर की मुख्य मेमोरी में आती है। ROM एक प्रकार का हार्डवेयर है जो मदरबोर्ड पर इंटेग्रेटेड होता है। इसका कार्य कंप्यूटर के विभिन प्रोग्राम्स को सुचारू रखना है। ROM का पूरा नाम “Read Only Memory” है। इसका अर्थ यह है कि इस प्रकार की मेमोरी को केवल पढ़ सकते है। यह केवल Read करने योग्य मेमोरी है, इस मेमोरी में Write नही कर सकते है।

मेमोरी में पहले से ही प्रोग्राम आता है जिसे आप वापस write या delete नही कर सकते है। ROM को परमानैंट स्टोरेज भी कहते है। यह एक प्रकार की नॉन वोलेटाइल मेमोरी है जिसे नष्ट नही किया जा सकता। वेसे आजकल आने वाली ROM के डाटा को विद्युत या अल्ट्रावायलेट किरणों से मिटा सकते है।

कंप्यूटर में विंडो या ऑपरेटिंग सिस्टम डालने से पहले उसके BIOS जैसे Programs होते है। इन्हें सिस्टम का फर्मवेयर भी कहते है जो मैन्युफैक्चर के द्वारा डाला जाता है। यह प्रोग्राम ROM मेमोरी में होता है। कंप्यूटर पॉवर ऑन करने पर जो भी सॉफ्टवेयर प्रोग्राम नजर आता है, वह प्राइमरी मेमोरी ROM में होता है। अगर कंप्यूटर के मदरबोर्ड पर रोम स्थापित नही है तो ऑपरेटिंग सिस्टम को बूट नही किया जा सकता है।

ROM Kya Hai रोम क्या है –

सॉफ्टवेयर को रन करने के लिए रोम महत्वपूर्ण है। ROM मदरबोर्ड में पहले से ही कंपनी के द्वारा इनबिल्ट आती है। रोम Computer के साथ ही स्मार्टफोन में भी होती है। आपके मोबाइल की Internal Memory रोम ही है। आपने गौर किया होगा कि जब आप कोई मोबाईल लेते है तो उसकी इंटरनल मेमोरी पहले से ही कुछ भरी होती है। इसमें प्री इनस्टॉल प्रोग्राम्स होते है जो मोबाइल रन करते है। ROM उस प्रत्येक उपकरण में होती है जिसमें सॉफ्टवेयर या प्रोग्राम होता है। जैसे आपके घर पर मौजूद LED टीवी या वाशिंग मशीन।

रोम के प्रकार Types Of ROM In Hindi –

ROM Memory 4 प्रकार की होती है।

1. PROM (Programmable Read Only Memory) – इस प्रकार की ROM मेमोरी को डिलीट नही किया जा सकता है। इसमें मौजूद इन्फॉर्मेशन या डाटा हमेशा रहता है। इस ROM में प्रोग्राम को कंपनी मैन्युफैक्चरिंग के बाद डालती है।

2. E PROM (Erasable Programmable Read only Memory) – इस प्रकार की ROM के डाटा को अल्ट्रावायलेट किरणों की मदद से erase कर सकते है। एक प्रोग्राम को हटाकर उसमे दूसरा प्रोग्राम डाला जा सकता है।

3. EE PROM (Electric Erasable Programmable Read Only Memory) – इस ROM को विद्युत के द्वारा मिटाया जा सकता है। इसमें मौजूद प्रोग्राम को कई बार मिटाकर वापस री प्रोग्राम किया जा सकता है।

4. M ROM (Mask Read Only Memory) –  मास्क रोम में प्रोग्राम को मैन्युफैक्चरिंग कंपनी ही डालती है। इसे बनाते वक्त कंपनी डाटा डालती है। इसके डाटा को नष्ट नही किया जा सकता है।

ROM Memory In Hindi कंप्यूटर रोम –

ROM एक स्थिर मेमोरी हैए जिसे Refresh करने की आवश्यकता नही है। इसमें डेटा या प्रोग्राम तब तक रहता है, जब तक उसे डिलीट नही किया जाये। पॉवर ऑफ होने पर भी ROM का डाटा बना रहता है। कंप्यूटर को ON करने के लिए रोम का होना अनिवार्य है। बूट करने के लिए भी ROM आवश्यक है। ROM की गति रैम से कम होती है।

कंप्यूटर से सबंधित अन्य पोस्ट्स –

Note – रोम क्या है What Is ROM In Hindi, रोम के प्रकार (Types Of ROM), रोम के कार्य पर यह आर्टिकल “ROM Kya Hai” अगर अच्छा लगा हो तो इसे फेसबुक या ट्विटर पर शेयर जरूर करे। कंप्यूटर से संबंधित पोस्ट्स हम आगे भी लिखते रहेंगे और आपको कंप्यूटर ज्ञान समय समय पर देते रहेंगे। हमारे ब्लॉग को आप सब्सक्राइब भी करे।

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *