बैक्टीरिया क्या है व खोज What Is Bacteria In Hindi

यह पोस्ट What Is Bacteria In Hindi बैक्टीरिया क्या है (Bacteria Kya Hai), बैक्टीरिया की खोज और जीवाणु का परिचय पर आधारित है। बैक्टीरिया सूक्ष्म जीव होते है जो नंगी आँखों से दिखाई नही देते है। मनुष्य में कई प्रकार के रोगों के जनक बैक्टीरिया ही है। बैक्टीरिया को हिंदी में “जीवाणु” कहते है। दुनिया के हर हिस्से चाहे जल हो या धरती में जीवाणु मिलते है। यहां तक कि आप जो मोबाइल इस्तेमाल करते है, उस पर भी जीवाणु या बैक्टीरिया होते है। तो आइए दोस्तो, बैक्टीरिया के बारे में जानने का प्रयास करते है।

What Is Bacteria In Hindi

बैक्टीरिया क्या है What Is Bacteria In Hindi

1. बैक्टीरिया (Bacteria) या जीवाणु एक कोशिकीय जीव है जिन्हें सूक्ष्मदर्शी के द्वारा ही देखा जा सकता है। इन्हें नंगी आँखों से देखना असम्भव है।

2. बैक्टीरिया की खोज (Bacteria Ki Khoj) एण्टनी वॉन ल्युवॉनहुक ने वर्ष 1683 में की थी। उन्होंने सूक्ष्मदर्शी के द्वारा बैक्टीरिया को देखा था।

3. ल्युवॉनहुक के द्वारा खोजे गए इन जीवों को बैक्टीरिया नाम एरनबर्ग ने किया था। लुई पास्चर ने बताया कि खाद्य में किण्वन क्रिया जीवाणुओं के द्वारा ही होती है।

4. जीवाणु की कोशिका में केन्द्रक नही होता है, इसलिए इन्हें अकेन्द्रीय जीव भी कहते है।

5. जीवाणु दुनियाभर में पाये जाते है। जीव जंतुओं पर, पेड़ पौधों पर, जल में, मिट्टी में, हवा में प्रत्येक वस्तु या जगह पर जीवाणु मिलते है। नमी वाली जगह पर जीवाणु ज्यादा पनपते है।

6. बैक्टीरिया दुनिया का सबसे पहला जीव माना गया है। मनुष्य से भी पहले जीवाणु की उत्पत्ति मानी जाती है।

7. दुनिया में बैक्टीरिया की संख्या खरबों मिलियन्स में है। इनमें से 99 फीसदी बैक्टीरिया इंसान को नुकसान नही पहुँचाते है। केवल 1 फीसदी बैक्टीरिया ही नुकसानदेह है।

8. बैक्टीरिया (Bacteria) का आकार 0.5 माइक्रोमीटर तक होता है। ये गोल, सर्पिल, चपटे इत्यादि आकृति में होते है। बैक्टीरिया ग्राम नेगेटिव और ग्राम पॉज़िटिव भी होते है।

9. बैक्टीरिया या जीवाणु तेज गति से प्रजनन करते है। इनकी प्रजनन प्रक्रिया द्विखण्डन होती है। इस क्रिया में डीएनए की प्रतिकृति बनती है।

10. दुनियाभर में मौजूद सभी प्रकार के बैक्टीरिया हानिकारक नही होते है। कुछ प्रकार के जीवाणु मानव के लिए लाभदायक होते है। भोजन के पाचन में कुछ जीवाणु काम आते है। दही जमाने में, खाद निर्माण में इत्यादि में जीवाणु लाभदायक है।

जीवाणु का परिचय Bacteria Information In Hindi –

11. मनुष्य शरीर पर भी जीवाणु या बैक्टीरिया (Bacteria) होते है। आपके हाथ पर, आपके चेहरे पर, आपके बदन पर हर हिस्से में बैक्टीरिया मौजूद होते है। अगर शरीर पर मौजूद सभी बैक्टीरिया को तौल ले तो इनका कुल वजन 1.5 किलोग्राम के आसपास होगा।

12. आपको जानकर शायद हैरानी होगी कि मोबाइल पर मौजूद बैक्टीरिया की संख्या टॉयलेट सीट पर मौजूद बैक्टीरिया से ज्यादा होती है।

13. आपके पर्स में मौजूद नोटों पर भी लाखों की संख्या में बैक्टीरिया होते है। आपके मुंह में भी जीवाणुओं की करोडों संख्या है। यह बड़ी ही रोचक बात है की मुंह में मौजूद बैक्टीरिया की संख्या धरती पर मौजूद इंसानों से भी ज्यादा है।

14. जीवाणुओं के कारण मनुष्यों में कई रोग उत्पन्न होते है। हैजा, फ्लैग, बुखार इत्यादि रोग बैक्टीरिया के कारण ही होते है। इंसानों में संक्रामक बीमारियों का कारण बैक्टीरिया ही है। जीवाणुओ के कारण पेड़ पौधों में भी कई रोग लग जाते है।

15. एंटीबायोटिक दवा जीवाणुओं से तैयार की जाती है। पेनिसिलिन नामक पहली एंटीबायोटिक दवाई एक जीवाणु से ही तैयार हुई थी।

16. मनुष्य का पसीना गन्धहीन होता है लेकिन बैक्टीरिया के कारण पसीने में गन्ध आती है।

17. जीवाणुओं का अध्ययन विज्ञान की जिस शाखा में किया जाता है, उसे जीवाणु विज्ञान या बैक्टीरियोलॉजी कहते है।

यह भी पढ़े – 

नोट – इस आर्टिकल What Is Bacteria In Hindi में बैक्टीरिया क्या है (Bacteria Kya Hai) व बैक्टीरिया की खोज (Bacteria Ki Khoj) के बारे में जानकारी कैसी लगी। यह पोस्ट जीवाणु का परिचय “Bacteria Information In Hindi” पसंद आयी हो तो इसे शेयर भी करे।

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *