भारतीय गाँव पर निबंध Essay On Indian Village In Hindi

यह निबंध Essay On Indian Village In Hindi भारतीय गाँव पर आधारित है। भारत गांवों में बसता है। भारत के किसान और मजबूर ज्यादातर गांवों से आते है। भारत के अन्नदाता किसान गाँव में ही कृषि करते है। मेरा गाँव पर निबंध (My Village Essay In Hindi) प्रतियोगिता अक्सर स्कूलों में होती रहती है। गाँव पर निबंध (Gaon Par Nibandh) और गाँव का महत्व पर रोशनी डालने का प्रयास इस पोस्ट “Village Information In Hindi” में है।

Essay On Village In Hindi

गाँव पर निबंध Essay On Indian Village In Hindi

भारत की अर्थव्यवस्था कृषि पर मुख्यतः आधारित है। हमारे कृषक किसान गांवों में ही रहते है। भारत की अधिकतर जनसंख्या गाँव में रहती है। भारत देश की तरक्की में गांवों का अहम योगदान है। गाँव की अनदेखी करके विकास नही किया जा सकता है। अनाज, दाल, सब्जियां इत्यादि भोजन गाँव से ही आता है। लहराते हुए खेत और पशु पक्षियों की मधुर आवाज गांव की सूचक है।

गांव के लोग जितना है, उतने में ही खुश रहते है। गांव में भारतीय संस्कृति का वास होता है। यहाँ के लोग रिश्ते निभाते है। अतिथि का सत्कार गांवों की परंपरा है। गांव के लोग परिवार पारंपरिक मूल्यों को निभाते है। गांव में संयुक्त परिवार होता है।

रात को जल्दी सोना और सूर्योदय से पहले उठना गाँव के लोगो की नित्य क्रिया है। गांव के लोग भगवान में ज्यादा विश्वास करते है। ग्रामीण सरल स्वभाव के होते है। गांव में रहने वाला ग्रामवासी अपने गाँव के प्रत्येक इंसान को जानता है। यहां तक कि वह गाँव के हर परिवार की जानकारी रखता है।

गांवों में आजीविका के साधन कम हो रहे है। इसलिए गांव के लोग शहरों की और काम की तलाश में पलायन करते है। ग्रामीण मुख्यतः कृषि करके अपने परिवार का लालन पोषण करते है। कृषि के अलावा पशु पालन, मुर्गी पालन, मजदूरी इत्यादि कार्य गाँव के लोग करते है। गांव के ज्यादातर परिवार गरीबी रेखा के नीचे है। गाँव में साक्षरता भी बहुत कम है। गाँव के लोगो को काम धंधे की ज्यादा फिक्र रहती है, इसलिए बच्चों को शिक्षा नही दे पाते है। गांव के लगभग हर परिवार में पशुपालन किया जाता है। गाय, भैंस, बकरी, ऊंट इत्यादि पशुओं का पालन करते है।

गाँव पर निबंध My Village Essay In Hindi –

गाँव में पानी और बिजली की काफी समस्या रहती है। आये दिन बिजली कटौती से गर्मियों में मुश्किल होती है। गाँव में पानी के लिए कुंवे और तालाब होते है लेकिन कम बारिश होने पर ये सुख जाते है। आजकल गांवों में पानी की समस्या से निजात पाने के लिए हैंडपंप लगाए जाते है, जिससे काफी हद तक जल संकट दूर होता है।

भारत के गांवों में पंचायत राज की व्यवस्था है। ग्रामवासी वोट करके सरपंच और वार्ड पंच का चुनाव करते है। सरपंच गाँव का मुखिया होता है, वह गाँव के विकास से जुड़े फैसले लेता है।

दुनिया की भीड़भाड़ और शोर शराबे से दूर गांव में माहौल शान्त रहता है। यहां हर धर्म के लोग आपस में मिलजुलकर रहते है। लोगो का आपस में प्रेमभाव देखना है तो गांव आइये। किसी को कोई भी समस्या हो तो आपस में ही सुलझा ली जाती है। गाँव प्रदूषण मुक्त होता है। यहां पर चारों तरफ पेड़ पौधे मिल जाते है जो वातावरण में शीतलता का संचार करते है। गांवों में ट्रैफिक का शौर नही होकर पक्षु पक्षियों का मधुर संगीत होता है।

गांव में आबादी भी कम होती है। गांव में फ़ास्ट फ़ूड वाली जिंदगी नही हैं। यहां रोटी सब्जी ही मिलती है। गांव का मूलमंत्र सादा जीवन उच्च विचार है। ज्यादातर गांवों में स्कूल और अस्पताल होते है लेकिन आज भी कई गांवों में इनका अभाव है। बच्चों को पढ़ाई करने के लिए शहरों या कस्बों में जाना पड़ता है। बीमार होने पर दूर शहर में इलाज करना गाँव के लोगो की मजबूरी होती है।

गांव की जानकारी Village Information In Hindi –

गाँव में सुलभ शौचालय की भी कमी है। ज्यादातर परिवारों के पास शौचालय नही है। उन्हें नित्य क्रिया के लिए गांव से दूर जंगल मे जाना होता है। नहाने के लिए भी तालाब या कुंड होता है। गांवों में जाने के लिए पक्की सड़कों की कमी है। हालांकि ज्यादातर गांव सड़कों से जुड़ चुके है लेकिन समस्या अभी भी बनी हुई है।

शहर से गांव जाने के लिए यातायात के साधनों की भी कमी है। ज्यादातर ग्रामीणों के पास स्वंय का वाहन नही है।  अकाल की स्थिति में ग्रामवासियों के भूखे मरने की स्थिति हो जाती है। गांवों में अकाल प्रबंधन की समुचित व्यवस्था होनी चाहिए।

गाँव में तीज त्योहार बड़े ही उल्लास के साथ मनाये जाते है। चाहे दीवाली हो या ईद गांव में सब लोग मिलकर मनाते है। गाँव में मंदिर, मस्जिद होती है। मंदिर की घण्टी और मस्जिद की अजान गांव के लोगो की सहिष्णुता की पहचान है। गांव में बच्चे गिल्ली डंडा, छुपम छुपाई जैसे खेल खेलते है।

Gaon Par Nibandh भारतीय गाँव पर निबंध –

आजादी के बाद से ही गांवों में प्रगति का प्रयास हमेशा रहा है और विकास हुआ भी है। आज गांव में अस्पताल, स्कूल, बिजली, कंप्यूटर, इंटरनेट, टेलीविजन, टेलीफोन इत्यादि सब कुछ है। पहले खेती करने के लिए बैलगाड़ी हुआ करती थी लेकिन आज ट्रैक्टर मिल जाते है। ग्रामीण लोगो का जीवन स्तर काफी ऊपर उठ  है और वो मुख्य धारा से जुड़े है। परन्तु यह भी एक कटु सत्य है कि कुछ गांवों में आज भी इन चीजों का अभाव है। गांव में विकास के लिए सबसे जरूरी चीज जागरूकता है। एक जागरूक नागरिक बदलाव लाने में सक्षम है।

Note – भारतीय गाँव पर निबंध Essay On Indian Village In Hindi पर जानकारी Village Information In Hindi कैसी लगी। यह पोस्ट “Village Essay In Hindi” अच्छी लगी हो तो “Gaon Par Nibandh” को शेयर भी करे।

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *