मधुमक्खी की रोचक जानकारी | Honey Bee In Hindi

Honey Bee In Hindi
Madhumakhi

इस लेख Honey Bee In Hindi में मधुमक्खी के बारे में जानकारी है। मधुमक्खी शहद का निर्माण करती है। शहद के उत्पादन के लिये मधुमक्खी पालन किया जाता है। यह बहुत मेहनती होती है। यह लगातार मेहनत करके फुलो से रस चूसकर अपने छत्ते तक लाती है। मधुमक्खी कीट प्रजाति की प्राणी है। तो आइये मधुमक्खी के बारे में “Madhumakhi Information In Hindi” जानने का प्रयास करते है।

मधुमक्खी की जानकारी – Honey Bee Information In Hindi

1. मधुमक्खियां (Honey Bee) पूरी दुनिया में पाई जाती है। यह खरबों की संख्या में पृथ्वी पर मौजूद है। इनका धरती पर इतिहास मनुष्य से भी पहले का है।

2. दुनिया में मधुमक्खी की 20 हजार से ज्यादा प्रजाती पायी जाती है। शहद का निर्माण केवल 4 प्रजाति ही करती है।

3. एपिस मेलिफेरा नामक मधुमक्खी सबसे ज्यादा अंडे देती है और शहद का निर्माण करती है। इसके अलावा एपिस फ्लोरिया, एपिस इंडिका भी प्रमुख है।

4. मधुमक्खी का निवास छत्ते पर होता है। वे झुंड बनाकर रहती है। मधुमक्खी के झुंड में ज्यादातर मादा मधुमक्खियां होती है जो मजदूर होती है। कुछ नर मधुमक्खी भी पाई जाती है। छत्ते में एक रानी मधुमक्खी होती है। यह मनुष्य की तरह ही कॉलोनी बनाकर रहती है।

रानी मधुमक्खी का जीवन चक्र – Life Cycle Of Honey Bee In Hindi

5. रानी मधुमक्खी का कार्य नर से संबंध बनाना और छत्ते पर एकाधिकार स्थापित करना होता है। रानी मधुमक्खी अंडे देने का कार्य करती है। यह एक दिन में करीब 2000 अंडे दे सकती है। रानी मधुमक्खी हवा में फेरोमोन नामक द्रव्य छोड़ती है जिससे नर उसकी तरफ आकर्षित होते है। रानी मधुमक्खी का शरीर अन्य मधुमक्खी से बड़ा और चमकीला होता है।

6. रानी मधुमक्खी को कोई मधुमक्खी पैदा नही करती है। इसे मजदूर मादा मधुमक्खी बनाती है। रानी के अंडे को फर्टीलाइज करके कोशिकाए तैयार की जाती है। इसके बाद रानी के लार्वा से रॉयल जैली नामक तत्व का निर्माण किया जाता है। कोशिकाओं को रॉयल जैली दी जाती है और उन्हें मोम की परत से ढक दिया जाता है। इसी से रानी मधुमक्खी निकलती है।

7. मधुमक्खी का जीवन चक्र – मधुमक्खी में जीवनकाल में चार अवस्थाएं होती है  – अंडा, लार्वा, प्यूपा और वयस्क

8. रानी मधुमक्खी को वयस्क अवस्था तक आने में करीब 16 दिन लगते है। मजदूर मधुमक्खी के वयस्क होने में 21 से 22 दिन और मादा मधुमक्खी के अंडा से वयस्क अवस्था तक जाने में 24 दिन लगते है।

9. नर मधुमक्खी का जीवनकाल (आयु) मात्र 45 दिन का होता है। रानी मधुमक्खी का जीवन चक्र (आयु) 5 साल तक हो सकता है।

रानी, मादा, नर और मजदूर मधुमक्खी के कार्य

1. मादा मधुमक्खी ही शहद का निर्माण करती है। नर का कार्य रानी मधुमक्खी के साथ संबंध बनाना होता है। संबंध बनाने के बाद नर की मृत्यु हो जाती है। नर मधुमक्खी को ड्रोन भी कहा जाता है।

2. मजदूर मधुमक्खी का कार्य छत्ते की देखभाल, बच्चो की देखभाल, साफ सफाई, फूलों से रस चूसकर लाना होता है। मजदृर मधुमक्खी का कार्य भी बटा हुआ होता है। कुछ नर्स मधुमखियाँ होती है जो बच्चो की देखभाल और कुछ मधुमखियाँ रक्षा का कार्य करती है।

3. मधुमक्खी Honey Bee का डंक बहुत खतरनाक होता है। अगर मधुमक्खी डंक मार दे तो शरीर में सूजन और दर्द हो सकता है। मादा मधुमक्खी ही डंक मार सकती है क्योंकि नर के डंक नही होता है।

मधुमक्खी शहद कैसे बनाती है?

1. मधुमक्खी फूलों के रस को चूसने के लिए 10 से 15 किलोमीटर दूर तक चली जाती है। यह फूलों के रस को छत्ते पर इक्कठा करती है।

2. मधुमक्खी का छत्ता मोम का बना होता है। इसमें छोटे छोटे छिद्र रूपी कोष बने होते है। फूल के रस को इन्ही कोषों में रखा जाता हैं। छत्ते में कुल 6 कोने होते है।

3. मोम मधुमक्खियों के पेट पर बनी ग्रन्थियों से निकलता है। इनका छत्ता उस जगह होता है, जहाँ फूल ज्यादा होते है। एक छत्ते में करीब 50 हजार मधुमक्खियां रहती है। इनकी संख्या कम या ज्यादा हो सकती है।

4. मधुमक्खी के द्वारा जिस रस को चूसा जाता है, उसे मधुरस (Nectar) कहते है। इसमें ज्यादातर मात्रा में पानी होता है।

5. मधुमक्खी के दो पेट होते है। एक पेट में गया रस मधुमक्खी के शरीर को ऊर्जा देने का कार्य करता है। दूसरे पेट मे फुलो का रस इक्कठा होता है। पेट में मौजूद एग्जाइम उस रस को शहद में बदल देते है। कुछ समय बाद मधुमक्खी उस रस को उल्टी करके पेट से बाहर निकाल देती है। यह रस गाढ़ा प्रवर्ती का होता है। इस रस में पानी की मात्रा बहुत कम होती है।

7. मधुमक्खी Honey Bee के द्वारा उत्पादित शहद स्वाद में मीठा और स्वास्थवर्धक होता है। यह कई प्रकार की औषधि में काम आता है।

मधुमक्खी के रोचक तथ्य – Honey Bee (Madhumakhi) Information In Hindi

17. मधुमक्खी Honey Bee की नाक बहुत संवेदनशील होती है। यह खुशबू को पहचान सकते है। इसकी नाक में करीब 170 से ज्यादा सूंघने वाली ग्रन्थियां होती है।

19. मधुमक्खी फुलो का रस एक एंटीना के द्वारा चुसती है जो उसके उसके मुंह पर होता है। मधुमक्खी के 5 आंखे और 6 पैर होते है। आंखों पर कई सारे लेंस भी होते है।

20. मधुमक्खी बहुत तेजी से अपने पंख फड़फड़ाती है। यह एक सेकंड में करीब 200 बार अपने पँखो को फड़फड़ाती है। मधुमक्खी के उड़ने की रफ्तार 25 किलोमीटर प्रति घण्टा होती है।

22. आपको यह जानकर बहुत आश्चर्य होगा कि मधुमक्खी को एक चमच्च शहद इक्कठा करने के लिए हजारों लाखों फुलो को चूसना पड़ता है।

23. मधुमक्खी के एक छत्ते से वर्षभर में करीब 50 किलो तक शहद प्राप्त हो सकता है। यह भी बड़ा रोचक तथ्य है कि एक किलो शहद के निर्माण के लिए करीब 20 हजार मधुमक्खियां पृथ्वी के 6 चक्कर लगाने के बराबर सफर तय कर लेती है।

24. आजकल मधुमक्खियां बहुत कम दिखाई पड़ती है। ये तेजी से विलुप्त हो रही है।

दोस्तों, अल्बर्ट आइंस्टीन के अनुसार अगर किसी भी कारणवश धरती की सभी मधुमक्खियां (Honey Bee) अचानक खत्म हो जाये तो बहुमुश्किल से मानव जीवन मात्र 4 साल तक और रहेगा। इसका कारण विभिन्न वनस्पतियों में परागण का कार्य मधुमक्खियां ही करती है।

मधुमक्खी की जानकारी (Honey Bee In Hindi) पर यह आर्टिकल Madhumakhi In Hindi आपको कैसा लगा? यह पोस्ट “Honey Bee Information In Hindi” पसंद आयी हो तो इसे शेयर भी करे।

यह भी पढ़े –

About the Author: Knowledge Dabba

नॉलेज डब्बा ब्लॉग टीम आपको विज्ञान, जीव जंतु, इतिहास, तकनीक, जीवनी, निबंध इत्यादि विषयों पर हिंदी में उपयोगी जानकारी देती है। हमारा पूरा प्रयास है की आपको उपरोक्त विषयों के बारे में विस्तारपूर्वक सही ज्ञान मिले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *