प्रदूषण की समस्या पर निबंध Essay On Pollution In Hindi

प्रदूषण क्या है और इसके कारण, प्रभाव, निवारण Essay On Pollution In Hindi

प्रदूषण वर्तमान दुनिया की सबसे बड़ी समस्या है। यह पोस्ट Essay On Pollution In Hindi प्रदूषण पर निबंध के बारे में है। पिछले कुछ दशकों में प्रदूषण में बढ़ौतरी हुई है। इसका एक बड़ा कारण शहरीकरण और आधुनिकरण है। आधुनिक दुनिया मे इंसान प्रकृति को भूल रहा है। मनुष्य सर्वोधिक नुकसान प्रकृति को ही पहुचाता है। इंसान लालच में आकर प्रकृति का अंधाधुन दोहन कर रहा है। यह पोस्ट प्रदूषण क्या है? (What Is Pollution In Hindi) और प्रदूषण के कारण, प्रभाव और निवारण पर आधारित है। वायु प्रदूषण, जल प्रदूषण, ध्वनि प्रदूषण प्रदूषण के मुख्य प्रकार है। तो आइए दोस्तों प्रदूषण पर निबंध पर डिस्कशन करते है।

प्रदूषण क्या है (What Is Pollution In Hindi) – प्रदूषण प्रकृति का अभिशाप है जो मानव के कारण होता है। इंसान ने प्रकृति में असंतुलन पैदा किया है जिससे प्रदूषण के रूप में प्रकृति का प्रकोप दिखाई दे रहा है। आज के समय मे मनुष्य को ना शुद्ध खाना मिल रहा है और ना ही शुद्ध पानी और हवा मिल रही है। यहां तक कि रहने के लिए शांत वातावरण भी नही मिल रहा है। पानी, हवा में प्रदूषकों के मिलने से प्रकृति के यह तत्व प्रदूषित हो जाते है। Essay On Pollution In Hindi में प्रदूषण के बारे में चर्चा करेंगे।

Essay On Pollution In Hindi
Pradushan Par Nibandh

प्रदूषण के प्रकार Types Of Pollution In Hindi –

1. वायु प्रदूषण (Air Pollution) – हवा में प्रदूषकों के मिलने से हवा प्रदूषित हो जाती है। यह हवा मनुष्य के स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव डालती है। कारखानों से निकला जहरीला धुंआ वायु में मिल जाता है। यह वायु प्रदूषण का मुख्य कारण है। वाहनों से निकला धुंआ भी वायु प्रदूषण के लिए जिम्मेदार है।

2. जल प्रदूषण (Water Pollution) – कारखानों से निकलने वाला अशुद्ध जल और रासायनिक पदार्थ नदियों और समुद्र के जल मिलकर उसे प्रदूषित कर देता है। इस प्रदूषित जल को पीने से कई प्रकार की गम्भीर बीमारिया हो जाती है।

3. ध्वनि प्रदूषण (Noise Pollution) – फैक्टरियों की मशीनरी से निकलने वाली आवाज ध्वनि प्रदूषण की जिम्मेदार है। वाहनों का अत्यधिक शौर भी ध्वनि प्रदूषण पैदा करता है। इससे इंसानो में बहरापन और तनाव पैदा होता है।

4. मृदा प्रदूषण (Soil Pollution) – मिट्टी में प्रदूषकों के मिलने से मृदा प्रदूषण होता है। आजकल खेती में फसल उत्पादन बढ़ाने के लिए कीटनाशकों का छिड़काव किया जाता है। इससे कीटनाशक मृदा की उवर्कता को खत्म कर देते है।

प्रदूषण के कारण Causes Of Pollution In Hindi –

Essay On Pollution In Hindi प्रदूषण पर निबंध 

  • Pollution के व्यापक और सर्वोधिक कारण मानव निर्मित है। इंसान आधुनिकता की हौड़ में प्रकृति का अत्यधिक दोहन कर रहा है। इससे प्राकृतिक संसाधनों में कमी हो रही है। जो संसाधन बचे हुए है वो भी प्रदूषण के मारे प्रदूषित हो रहे है।
  • प्रदूषण का मुख्य कारण कल कारखानों से निकलने वाला जहरीला धुंआ और रासायनिक पदार्थ है। यह धुंआ वायु में और रासायनिक पदार्थ पानी मे मिलने से दोनों प्रदूषित हो जाते है।
  • शहरों में बढ़ते वाहन भी प्रदूषण का एक कारण है। अत्यधिक वाहनों से ट्रैफिक बढ़ता है और उनसे निकलने वाले जहरीले धुयें में बढ़ौतरी होती है जिससे वायु प्रदूषण होता है। वाहनों के अत्यधिक शौर से ध्वनि प्रदूषण भी होता है। लाउडस्पीकर और कारखानों के सायरन से भी ध्वनि प्रदूषण बढ़ता है।
  • वृक्षों की अंधाधुंध कटाई से भी प्रदूषण में बढ़ौतरी हो रही है। घटते जंगलो से प्राकृतिक सन्तुलन बिगड़ा है। ध्वनि प्रदूषण और वायु प्रदूषण में अत्यधिक वृद्धि का एक कारण वृक्षों की कटाई भी है।
  • ज्वालामुखी, बाढ़, भूकम्प से भी वायु और जल प्रदूषण होता है। परमाणु विस्फोट परीक्षण से भी वायु प्रदूषण में बढ़ौतरी होती है। परमाणु परीक्षण से रेडियोएक्टिव प्रदार्थ हवा में मिल जाते है।
  • बढ़ती आबादी भी बढ़ते प्रदूषण का एक कारण है। ध्वनि प्रदूषण, जल प्रदूषण, वायु प्रदूषण के बढ़ने का कारण बढ़ती आबादी भी है।

प्रदूषण के प्रभाव Effects Of Pollution In Hindi –

प्रदूषण की समस्या पर निबंध Essay On Pollution In Hindi

  • Pollution का व्यापक दुष्प्रभाव होता है। प्रदूषण से प्रकृति की हर चीज विकृत हो रही है।
  • वायु प्रदूषण, जल प्रदूषण और ध्वनि प्रदूषण से प्राकृतिक अंसतुलन पैदा होता है। रेगिस्तान की भूमि में विस्तार और कम होती हरियाली प्रदूषण के प्रभाव है।
  • प्रदूषण से कई प्रकार की महामारियां पैदा होती हैं जो इंसानों और जानवरों को बीमार कर देती है। मनुष्यों का गिरता स्वास्थ्य का जिम्मेदार भी प्रदूषण है। वायु प्रदूषण से सांस सबंधी बीमारिया फैलती है। ध्वनि प्रदूषण से बहरापन और तनाव बढ़ता है।
  • जल प्रदूषण से नदियों और समुद्रों का पानी प्रदूषित हो जाता है। इससे जलीय जीव प्रभावित होते है। कई जलीय जीवों की प्रजाति इससे नष्ट हो चुकी है। इस दूषित पानी से नहाने से चर्म रोग होने की संभावना होती है। प्रदूषित पानी पीना भी कई बीमारियों को न्योता देता है।
  • उपजाऊ भूमि में प्रदूषकों के मिलने से वह भूमि बंजर होती जाती है। मिट्टी में कीटनाशकों के छिड़काव से भी मृदा प्रदूषण होता है।
  • प्रदूषण के कारण धरती का तापमान लगातार बढ़ रहा है। ओजोन परत में हुए छेद का कारण भी वायु प्रदूषण है। ग्लेशियर के पिघलने से जल स्तर में बढ़ौतरी हुई है।

प्रदूषण रोकने के उपाय How To Control Pollution In Hindi –

Essay On Pollution In Hindi

  • पोल्लुशन को समाप्त करना तो मुश्किल है लेकिन इसे कुछ उपाय करके कम किया जा सकता है।
  • प्रदूषण रोकने के उपाय से प्रदूषण को काफी हद तक कम किया जा सकता है। प्रदूषण को रोकने के लिए सभी देशों को एकसाथ आना होगा। प्रदूषण रोकने के लिए कड़े नियम बनाने होंगे।
  • ग्लोबल वार्मिंग भी एक समस्या है जो बढ़ते प्रदूषण से और भी गम्भीर हो रही है। इससे निपटने के लिए वायु प्रदूषण को रोकना जरूरी है।
  • सामाजिक जागरूकता भी एक अच्छा उपाय हो सकता है। पर्यावरण प्रदूषण के गम्भीर खतरों से लोगो को अवगत कराना चाहिए। यह हमारी जिम्मेदारी और फर्ज है कि हम पर्यावरण की सुरक्षा करें।
  • शिक्षा से भी प्रदूषण की समस्या से निजात पाया जा सकता है। बच्चो को स्कूली सिलेबस में पर्यावरण के प्रति जागरूक करना चाहिए। प्रकृति का महत्व बच्चो की शिक्षा में अनिवार्य होना चाहिए।
  • फैक्टरियों से निकलने वाले धुंए और रासायनिक पदार्थ को वायु और जल में मिलने से रोकने के उपाय होने चाहिए। प्रदूषण का मानक तय होना चाहिए।
  • ज्यादा से ज्यादा वृक्षारोपण करना चाहिए जिससे प्रदूषण की समस्या से निजात मिल सकती है। पेड़ लगाना पूण्य कमाने के समान है।
  • हम स्वयं पर्यावरण को गंदा करते है और अस्वछता फैलाते है। यह हमारा दायित्व है कि हम स्वछता रखे। स्वच्छता बेहतर जीवन देती है। हर जगह कूड़ा कचरा डाल दिया जाता है। यह कूड़ा पानी मे मिलकर उसे प्रदूषित करता है। कचरे के प्रदूषक हवा में मिलकर इसे प्रदूषित करते है।

Essay On Pollution In Hindi प्रदूषण पर निबंध –

पृथ्वी की सुंदरता को बनाये रखने की जिम्मदारी हमारी है। धरती को प्रदूषण मुक्त करना हमारा कर्तव्य है। प्रकृति का संतुलन बनाये रखने का दायित्व भी हमारा है। प्रदूषण फैलाने के जिम्मेदार हम खुद है और इसको कम करना भी हमारे ऊपर ही है। प्रदूषण पर निबंध में प्रदूषण के कारण, प्रभाव और प्रदूषण रोकने के उपाय के बारे जानकारी देना हमारा दायित्व है।

यह भी पढ़े –

Note:- प्रदूषण की समस्या पर निबंध Essay On Pollution In Hindi आपको कैसा लगा। प्रदूषण क्या है (What Is Pollution In Hindi) और प्रदूषण के प्रकार (Types Of Pollution In Hindi) के बारे में जानकारी पर आपके विचार क्या है। प्रदूषण के कारण, प्रदूषण के प्रभाव और प्रदूषण रोकने के उपाय की जानकारी पर यह प्रदूषण पर निबंध को शेयर करे।

You May Also Like

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *