मृदा प्रदूषण क्या है पर निबंध | Essay On Soil Pollution In Hindi

मृदा प्रदूषण पर निबंध Essay On Soil Pollution In Hindi

मृदा प्रदूषण एक व्यापक समस्या है जिसके चलते दुनिया में उपजाऊ भूमि खत्म हो रही है। कृषि योग्य भूमि की सीमाएं कम हो रही है। यह लेख Essay On Soil Pollution In Hindi मृदा प्रदूषण क्या है पर निबंध के बारे में है। मृदा प्रदूषण के कई कारण है और इनके निवारण के उपाय भी है।

हमें एक अच्छी सोच की जरूरत है जिससे हम मृदा प्रदूषण को रोक सके। मृदा प्रदूषण क्या है? मृदा प्रदूषण के कारण, प्रभाव और निवारण की जानकारी पर चर्चा इस निबंध “Soil Pollution Essay Information In Hindi” में करेंगे।

Essay On Soil Pollution In Hindi

मृदा प्रदूषण क्या है? What Is Soil Pollution In Hindi

मृदा क्या है और इसका महत्व हमें मालूम होना चाहिये। मृदा को मिट्टी भी कहते है। यह धरती का एक प्राकृतिक संसाधन है। पेड़ पौधों को पनपने के लिए जितनी जरूरत पानी और हवा की है, उतनी ही जरूरत मृदा की भी है। मिट्टी स्वछ और उपजाऊ होनी जरूरी है। उपजाऊ मिट्टी में ही कृषि सम्भव होती है।

मिट्टी में जैविक गुण होते हैजो इसे उपजाऊ बनाते है। इस मिट्टी में पेड़ो की पत्तियां, टहनियां, पशुओ का गोबर इत्यादि होते है। मृदा धरातल की ऊपरी परत है जिस पर पेड़ पौधे लगते हैं। मृदा की ऊपरी परत ही  प्रदूषित होती है। मिट्टी का किन्ही कारणवश दूषित होना मृदा प्रदूषण कहलाता है।

मृदा प्रदूषण के कारण (Causes Of Soil Pollution)

1. खेत की फसलों में कीटनाशकों के छिड़काव से मृदा प्रदूषित होती है। इससे मिट्टी की उवर्कता खत्म हो जाती है।

2. अम्ल वर्षा भी मृदा प्रदूषण का एक कारक है। इससे मिट्टी का ph मान बढ़ जाता है और मिट्टी अम्लीय हो जाती है।

3. औद्योगिक कचरा भी मृदा प्रदूषण को बढ़ाता है। फैक्टरियों से रासायनिक अशुद्धियां निकलती है जो मिट्टी में मिलकर प्रदूषण पैदा करती है।

4. मानव निर्मित कूड़ा कचरा भी मृदा को प्रदूषित करता है। लोग अपने घरों के कचरे को धरती पर यहां वहां फेक देते है और स्वछता का ख्याल नही रखते है। इससे हमारा परिवेश और भूमि खराब होती है।

5. रेडियोएक्टिव पदार्थ भी मिट्टी में मिलकर उसे दूषित कर देते है। ये पदार्थ मिट्टी में मिलकर उसे हमेशा के लिए अनुपजाऊ बना देते है।

6. मृदा अपरदन भी एक कारक है। मिट्टी का कटाव होने से मिट्टी की ऊपरी उपजाऊ परत नष्ट हो जाती है।

7. मिट्टी में प्लास्टिक कचरा नही फेखना चाहिए। यह मृदा को प्रदूषित करता है।

8. खनन से भी मृदा प्रदूषण होता है। खनन से निकलने वाले पदार्थ मिट्टी को दूषित करते है।

मृदा प्रदूषण के प्रभाव

1. फसलों का उत्पादन प्रभावित होता है। कृषि भूमि के कम होने के कारण फसल कम उत्पादित होती है। प्रभावित भूमि पर उत्पादित अनाज मनाव स्वास्थ्य के लिये हानिकारक होता है।

2. मृदा प्रदूषण से मिट्टी की उवर्कता कम हो जाती है। इससे मिट्टी के जैविक गुण प्रभावित होते है।

3. प्रदूषित मिट्टी पानी के बहाव के साथ बहकर नदियों और तालाबो में चली जाती है। इससे जल प्रदूषण होता है।

4. मृदा प्रदूषण से भूमि बंजर होती है। इससे पेड़ पौधों के पनपने में दिक्कत आती है। पेड़ पौधों का सही विकास नही हो पाता है।

5. मिट्टी की उवर्कता कम होने से फसल कम उत्पादित होगी जिससे भोजन की समस्या पैदा हो सकती है। क्योंकि पेड़ पौधे ही हमे भोजन देते है।

मृदा प्रदूषण रोकने के उपाय

1. इसके रोकने के उपाय मृदा प्रदूषण होने के कारणों में छिपे हुए है। खेतों में कीटनाशकों का छिड़काव कम और सुरक्षित करना चाहिए। इससे मृदा की उवर्कता बनी रहती है।

2. औद्योगिक कचरे की निकासी समुचित होनी चाहिए। उपजाऊ मिट्टी पर इस कचरे की निकासी नही होनी चाहिए।

3. हमे अपने आसपास स्वच्छता रखनी चाहिये। यहाँ वहां कूड़ा कचरा नही फेखना चाहिए। कचरे का उचित निस्तारण होना आवश्यक है। कचरे को कूड़ेदान में ही डालना चाहिए।

4. मृदा अपरदन को रोकना चाहिए। इसको रोकने के लिए ज्यादा से ज्यादा वृक्ष लगाने जरूरी है। खेतो के चारो और वृक्षारोपण होना चाहिये।

5. मृदा प्रदूषण को रोकने के लिए वायु प्रदूषण और जल प्रदूषण होने से रोकना जरूरी है। मृदा को प्रदूषित करने में वायु और जल अहम भूमिका निभाते है।

6. किसी भी प्रकार की चीज को मिट्टी में डालने से पूर्व उसका उपचार और निरक्षण जरूरी है। अगर यह नही किया गया तो मिट्टी के बंजर होने की संभावना होती है।

7. लोगो को मिट्टी में पॉलीथिन या प्लास्टिक नही डालनी चाहिए। यह मृदा प्रदूषित होने की अहम वजह है। प्लास्टिक की चीजें लंबे समय तक वैसी ही बनी रहती है और नष्ट नही होती है।

8. हमें रिसायकल की आदत अपनानी होगी। किसी भी वस्तु को कही पर भी फेखने से अच्छा है, उसे किसी रिसायकल वाले को दे।

मृदा प्रदूषण उपसंहार (Soil Pollution In Hindi)

तो दोस्तो, मृदा प्रदूषण (Soil Pollution) को रोकने की जिम्मेदारी हम सब की है। इसके कारणों और उपायों को जानकर हम एक सतत प्रयास इस और कर सकते है। किसी भी तरह का प्रदूषण क्यों ना हो, अगर हमारा धरती को स्वच्छ रखने का संकल्प है तो धरती को कोई प्रदूषित नही कर सकता है।

यह भी पढ़े – 

Note:- मृदा प्रदूषण क्या है? (What Is Soil Pollution) और मृदा प्रदूषण पर निबंध Essay On Soil Pollution In Hindi आपको कैसा लगा। मृदा प्रदूषण के कारण, प्रभाव, रोकने के उपाय पर यह लेख “Information About Soil Pollution In Hindi” पसंद आया हो तो इसे शेयर करे।

About the Author: Knowledge Dabba

नॉलेज डब्बा ब्लॉग टीम आपको विज्ञान, जीव जंतु, इतिहास, तकनीक, जीवनी, निबंध इत्यादि विषयों पर हिंदी में उपयोगी जानकारी देती है। हमारा पूरा प्रयास है की आपको उपरोक्त विषयों के बारे में विस्तारपूर्वक सही ज्ञान मिले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *