बेंजामिन फ्रैंकलिन की जीवनी और आविष्कार Benjamin Franklin Biography in Hindi

Benjamin Franklin Biography in Hindi

महान वैज्ञानिक और राजनेता बेंजामिन फ्रैंकलिन की जीवनी के बारे में इस पोस्ट Benjamin Franklin Biography In Hindi में चर्चा करेंगे। एक आविष्कारक, एक लेखक और एक क्रांतिकारी सोच वाले महान वैज्ञानिक बेंजामिन फ्रैंकलिन ने विधुत के क्षेत्र में कई कार्य किये थे। तो आइये दोस्तों बेंजामिन फ्रैंकलिन का जीवन परिचय जानने का प्रयास करते है।

बेंजामिन फ्रैंकलिन की जीवनी Benjamin Franklin Biography In Hindi

बेंजामिन फ्रैंकलिन Benjamin Franklin का जन्म 17 जनवरी 1706 को बोस्टन में हुआ था। उनके पिता जोशिया फ्रेंकलिन मोमबत्ती और साबुन बेचने का कार्य करते थे। बेंजामिन फ्रैंकलिन के 17 भाई बहिन थे। बचपन मे फ्रैंकलिन बोस्टन लेटिन स्कूल में पढ़ते थे लेकिन आर्थिक तंगी के कारण उन्होंने आगे की पढ़ाई नही की थी।

जब बेंजामिन फ्रैंकलिन 12 वर्ष के थे तब अपने भाई जेम्स फ्रैंकलिन के साथ प्रिटिंग प्रेस में कार्य करने लगे लेकिन अपने भाई से विवाद के चलते उन्होंने प्रिटिंग प्रेस छोड़ दी और 1723 में फ्रैंकलिन फिलाडेल्फिया शहर पहुचे और वहां पर द पेंसिल्वेनिया नामक गजट का प्रकाशन किया।

बेंजामिन फ्रैंकलिन की खोज और आविष्कार –

Benjamin Franklin Biography In Hindi – बेंजामिन फ्रेंकलिन Benjamin Franklin ने लाइटिंग कंडक्टर का आविष्कार किया जिससे मकानों पर बिजली गिरने से होने वाले नुकसान से बचा जा सके। इसके लिए बेंजामिन ने तड़ित चालक (Lighting Road) का आविष्कार किया था।

तड़ित चालक मे धातु की बनी एक छड़ ली जाती है और इस छड़ का उपरी नुकीला सिरा मकान की छत के ऊपर रहता हैं जबकि दूसरा सिरा जमीन में गाड़ दिया जाता है। जब तड़ित बादल मकान के ऊपर से जाते है, तब बिजली  मकान से ना टकराकर उस छड़ के द्वारा जमीन में चली जाती है। बेंजामिन फ्रेंकलिन के इस आविष्कार से विधुत तड़ित के द्वारा मकानों को नुकसान होने बचा लिया गया।

तड़ित चालक जिसको फ्रेंकलिन छड़ कहा जाता था, इसके अलावा भी बेंजामिन फ्रेंकलिन ने कई आविष्कार किये थे। The Franklin Stove का निर्माण किया जो खाना बनाने के कार्य मे आता था। फ्रेंकलिन ने ओडोमीटर का आविष्कार किया जिसका उपयोग किसी भी वाहन के द्वारा तय की गई दूरी मापने में किया जाता है।

बेंजामिन फ्रैंकलिन (Benjamin Franklin) को अमेरिका की पहली लाइब्रेरी खोलने का श्रेय है। फ्रैंकलिन ने दास प्रथा यानीकि गुलाम प्रथा का जोरदार विरोध किया था। इसलिए उन्होंने अपने अंतिम समय मे गुलामो को रिहा किया। फ्रैंकलिन ने कभी भी अपने आविष्कारों का पेटेंट नही करवाया क्योंकि वो चाहते थे कि इनका आम लोग फ्री में इस्तेमाल करे।

बेंजामिन फ्रैंकलिन Benjamin Franklin Information In Hindi

एक महान वैज्ञानिक होने के साथ साथ एक महान राजनेता थे। बेंजामिन फ्रैंकलिन उन लोगो मे शामिल थे जिन्होंने अमेरिका को ब्रिटेन औपनिवेशिक से आजादी दिलाई। दुनिया बेंजामिन फ्रैंकलिन को अमेरिका के स्वतंत्रता सेनानी के रूप में भी जानती है। जिन 5 व्यक्तियों ने अमेरिका की आजादी के घोषणा पत्र पर हस्ताक्षर किए थे उनमें से एक बेंजामिन फ्रैंकलिन भी थे।

अमेरिका के संविधान का मसौदा तैयार करने में भी बेंजामिन फ्रैंकलिन का बहुत योगदान था। जिस ऐतिहासिक पेरिस सन्धि के बाद अमेरिका को आजादी मिलने का रास्ता साफ हुआ, उस पर बेंजामिन फ्रैंकलिन के हस्ताक्षर थे।

फ्रैंकलिन ब्रिटेन की रॉयल सोसाइटी के सदस्य भी रहे है। फ्रैंकलिन में यह भी बताया कि जिन मकानों में रोशनदान और खिड़कियां नही होती है, उन माकानो में बीमारिया फैलने की ज्यादा सम्भावना होती है। फ्रैंकलिन ने बायोफोकल लेंस का निर्माण भी किया जिसके उपयोग से नजदीक और दूर की वस्तुओं को एकसाथ देखना सम्भव हो पाया।

बेंजामिन फ्रैंकलिन (Benjamin Franklin) एक बुद्धिजीवी वैज्ञानिक थे जिन्होंने विज्ञान के क्षेत्र के साथ लेखन भी किया था। उनके द्वारा रचित लेखों ने अमेरिका के स्वतंत्रता संग्राम में अहम भूमिका निभाई थी। 17 अप्रैल 1790 को बेंजामिन फ्रेंकलिन का निधन हुआ था।

यह भी पढ़े  – 

बेंजामिन फ्रैंकलिन की जीवनी Benjamin Franklin Biography In Hindi का आर्टिकल कैसा लगा और यह पोस्ट Information About Benjamin Franklin In Hindi अच्छी लगी हो तो शेयर करे।

You May Also Like

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *