क्या आप क़यामत की घडी को जानते है जो इस दुनिया में मोजूद है – What is doomsday clock in Hindi

जाने कयामत की घड़ी के बारे में जो इसी दुनिया मे मौजूद है – Knowledge and Information about Doomsday Clock In Hindi –

doomsday clock in hindi

दोस्तो क्या आप Doomsday Clock In Hindi के बारे में जानते है जिसे कयामत या प्रलय की घड़ी भी कहा जाता है। यह एक प्रतीकात्मक घड़ी है जो कयामत का समय बताती है।

क़यामत घडी क्या है What is Qayamat Watch In Hindi –

यह एक प्रतीकात्मक घड़ी है जो दुनिया मे संभावित खतरों को देखकर इसमे प्रलय आने का समय निर्धारित किया जाता है। अभी इस घड़ी में प्रलय आने में ढाई मिनेट का समय ही बचा हुआ है।

यह घड़ी कब और क्यों बनाई गई थी ? History About Doomsday Clock in Hindi –

वर्ष 1945 में जब अमेरिका ने जापान के दो बडे शहरो हिरोशिमा और नागासाकी पर अणु बम गिराए थे तब उन बमो के कारण लाखो लोग मारे गए थे। उस समय के वैज्ञानिकों को यह चिन्ता हुई कि ऐसी घटनाएं पूरी दुनिया के विनाश का कारण ना बन जाये, इसलिए दुनिया के नामी वैज्ञानिको ने इस घड़ी को बनाया जो यह बता सके कि इंसान के बनाये वो कोनसे खतरे है जो पूरी दुनिया के विनाश का कारण बन सकते है।

कयामत की घडी के बारे में रोचक तथ्य Amazing Facts About Doomsday Clock In Hindi

  • इंसानो को उनके द्वारा पैदा किये गए खतरों से आगाह करना , इस घड़ी को बनाने का लक्ष्य था।
  • इन वैज्ञानिकों की टीम में मशहूर वैज्ञानिक स्टीफन हॉकिन्स थे जिन्होंने इस टीम को लीड भी किया था। यह दल 15 सदस्यों का था और इस दल का नाम The Bulletin of Atomic Scientists था।
  • इस संगठन के सदस्य वैज्ञानिक धरती पर होने वाले खतरों का अध्ययन करते है जैसे की परमाणु हथियारों की बढ़ती संख्या, जलवायु परिवर्तन, बीमारियां ।
  • जनवरी 2017 में कयामत की इस घड़ी को आधा मिनट आगे खिसका दिया गया था याने की इस समय घड़ी के अनुसार क़यामत में ढाई मिनट ही शेष बचे हुए थे।
  • वर्ष 2015 में भी यह बदलाव किया गया था तब इस घड़ी में 3 मिनट का समय बचा हुआ था।
  • इस घडी में 12 बजने का मतलब है की दुनिया कभी भी ख़त्म हो सकती हैl
  • पहली बार वर्ष 1947 में इस घडी में क़यामत का समय सेट किया गया था और उस समय इस घडी में समय 12 बजने में 7 मिनट शेष था l
  • 1969 में जब परमाणु अप्रसार संधि पर हस्ताक्षर किया गया था तब इस घडी में समय पीछे करके 12 बजने में 10 मिनट का कर दिया गया था l

वर्तमान में अमेरिका और रूस के बीच मे बयानबाजी चल रही है और वो अपने परमाणु हथियार बढ़ाने की बात कर रहे है। सीरिया में भी युद्ध के हालात है और सीरिया मुद्दे पर कई देश दो धड़ो में बंटे हुए है। पूरी दुनिया मे तीसरे विश्व युद्ध के बादल मंडरा रहे है। इन सब परिस्थितियों को देखकर यह अंदाजा आप लगा सकते है कि कयामत आने का समय और कम होने वाला है।

यह पोस्ट Doomsday Clock In Hindi अगर अच्छी लगी हो तो शेयर जरुर करे

You May Also Like

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

4 Comments

    1. shukriya vikram singh ji.

      यह एक प्रतीकात्मक घड़ी है जो दुनिया मे संभावित खतरों को देखकर इसमे प्रलय आने का समय निर्धारित किया जाता है। अभी इस घड़ी में प्रलय आने में ढाई मिनेट का समय ही बचा हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *