गणितज्ञ पाइथागोरस का जीवन परिचय Biography Of Pythagoras In Hindi

Biography Of Pythagoras In Hindi

क्या आप पाइथागोरस (Pythagoras) को जानते है? हाँ नाम तो सुना ही होगा, महान गणितज्ञ (Mathematician) जो था। Biography Of Pythagoras In Hindi पोस्ट में पाइथागोरस का जीवन परिचय जानेंगे। प्राचीन ग्रीस का महान व्यक्ति जो एक महान वैज्ञानिक और गणितज्ञ था जिसको आज भी उनके द्वारा किये गए कार्यो के लिए याद करते है।

Pythagoras गणितज्ञ के साथ साथ दार्शनिक (Philosopher) भी थे। वेसे तो वे ग्रीस के थे लेकिन वो ग्रीस को छोड़कर साउथ इटली में बस गए क्योंकि उनके Idea और Belief अलग थे।

पाइथागोरस का विश्वास आत्मा की अमरता पर था। उनके अनुसार आत्मा अजर और अमर है और वो केवल अपना स्थान बदलती है।

Pythagoras Philosophy Theory क्या है?

वो इस बात को मानते थे कि मौत के बाद इंसान की आत्मा जन्नत को जाती है लेकिन अगर जन्नत ना जाये तो किसी और शरीर को धारण कर लेती है चाहे वो इंसान का शरीर हो या फिर जानवर का शरीर हो। जो लोग Pythagoras को Follow करते थे उन्हें पाइथागोरस कहा जाता था।

चाहे उनके विश्वास कुछ अलग थे और कुछ मूर्खतापूर्ण भी थे लेकिन साइंस और गणित में उनका योगदान किसी महानता से कम नही था।

 

पाइथागोरस प्रमेय क्या है (Pythagoras Theorem)

Pythagoras Theorem

अपना ब्लॉग ज्ञान याने की knowledge का है तो अब बात पाइथागोरस के नॉलेज की ही करते है।पाइथागोरस प्रमेय के बारे में तो आपने सुना ही होगा जी हां वो ही a² + b² = c²  की एक समकोण त्रिभुज में समकोण की सामने वाली भुजा का वर्ग अन्य दो भुजाओ के वर्ग के योग के बराबर होता है।

वेसे इस थ्योरी पर विवाद भी है क्योंकि यह भी माना जाता है कि पाइथागोरस प्रमेय को इससे भी पहले बेबीलोन और भारतीयों द्वारा खोज लिया गया था।

पाइथागोरस का मानना था कि ज्योमिति (Geometry) गणित में सर्वश्रेष्ठ है और Geometry से ही दुनिया की व्याख्या की जा सकती है। Pythagoras ने 10 को पूर्ण संख्या माना था।

Pythagoras Music Theory In Hindi

उन्होंने संगीत में भी कार्य किया था क्यूंकि उनको संगीत में भी रुचि थी। वे जीवन के लिए संगीत को जरूरी मानते थे। उन्होंने संगीत के नोट को गणित में अनुवाद (Translate) किया था। उनका मानना था कि संगीत या ध्वनि का हर नोट को गणित में व्याख्या कर सकते है।

पाइथागोरस उनमे से थे जो यह मानते थे कि पृथ्वी गोल है और सभी ग्रह किसी केंद्र के चारो और चक्कर लगा रहे है। उनका यह भी मानना था कि मानव जीवन और मानव शरीर एक स्थिर अनुपात में होते है इनमे कुछ भी कम या ज्यादा हो जाये तो असन्तुलन पैदा होता है जिससे मानव शरीर बीमारी से ग्रस्त हो जाता है।

अन्य जीवनी –

पाइथागोरस का जीवन परिचय Biography Of Pythagoras In Hindi आर्टिकल के बारे में आपकी क्या राय है? हमे पाइथागोरस जीवनी के बारे में कमेंट सेक्शन में जरूर बताना। यह आर्टिकल “Pythagoras Information In Hindi” अच्छा लगा हो तो इसे शेयर भी करे।

About the Author: Knowledge Dabba

नॉलेज डब्बा ब्लॉग टीम आपको विज्ञान, जीव जंतु, इतिहास, तकनीक, जीवनी, निबंध इत्यादि विषयों पर हिंदी में उपयोगी जानकारी देती है। हमारा पूरा प्रयास है की आपको उपरोक्त विषयों के बारे में विस्तारपूर्वक सही ज्ञान मिले।

5 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *