संदीप गजकस की सफलता की कहानी – Motivational Success Story Of Sandeep Gajakas In Hindi

सफलता पाने के लिए प्रेरणादायक सच्ची कहानी Motivational Story In Hindi For Success

दोस्तो सफलता मिलने का कोई निश्चित समय नही होता है , सफलता आपको कभी भी किसी भी समय मिल सकती है। Motivational Story In Hindi For Success सफल होने के लिए सबसे जरूरी है आत्मविश्वास Self Confidence और यह आप मे होना ही चाहिए। आप जो भी व्यवसाय कर रहे हो , आपको उस पर विश्वास होना चाहिए कि वो सफल होगा।

Motivational Story In Hindi For Success
आत्मविश्वास ही सफलता की पहली सीढ़ी है। इसी आत्मविश्वास के सहारे कई लोग सफल हुए है और इन्ही में से एक है संदीप गजकस। सन्दीप ने देश का पहला शू रिपेयरिंग Shoe Repairing का बिज़नेस शुरू किया था और आज वो इसी बिज़नेस के चलते करोड़ो कमा रहे है।

संदीप को अपने काम पर आत्मविश्वास था और इसी आत्मविश्वास के चलते उन्होंने मेहनत की और आज वो सफल है।

संदीप गजकस की सफलता की कहानी Motivational Success Story of Sandeep Gajakas In Hindi

जब भी कोई इंजीनियरिंग कर रहा होता है तो उसका लक्ष्य होता है कि किसी बड़ी कम्पनी में जॉब लग जाये लेकिन संदीप ऐसा नही सोचते थे और उनका लक्ष्य कुछ और था। संदीप ने इंजीनियरिंग छोड़ दी और बूट पोलिश का काम शुरू किया। जी हां आप सही सोच रहे है , सन्दीप ने इंजिनीरिंग छोड़ बूट पोलिश का कार्य शुरू किया।

संदीप शुरू में जॉब करने के लिए विदेश जाना चाहते थे और उन्होंने इसका मन भी बना लिया था लेकिन उसी दौरान 9/11 का आतंकवादी  हमला हो गया और संदीप ने अमेरिका जाने का विचार छोड़ दिया। उसके बाद सन्दीप को जुता पोलिश करने का आईडिया आया और उसने बूट पोलिश और रिपेयरिंग का काम Start किया ।
शुरू में संदीप के घरवालों को यह काम पसन्द नही आया लेकिन बाद में वो मान गए। संदीप ने 12000 हजार रुपये लगाकर इस बिज़नेस को शुरू किया था और अपने घर के बाथरूम को ही जूतों की वर्कशॉप Workshop बनाया।
शुरू में उनके कस्टमर Family Members और दोस्त थे। धीरे धीरे उनका बिज़नेस चलने लगा और आज उनकी कम्पनी देश के कई राज्यो में फैल चुकी है। संदीप की कम्पनी के साथ Adidas, Nike, Reebok, Filla जैसी कंपनियां जुड़ी हुई है।
संदीप कहते है  ” मेने सबसे ज्यादा समय रीसर्च को दिया क्योंकि में ऐसे इनोवेटिव आइडिया खोज रहा था जो जुतो को नया बना दे। इसलिए मैंने रीसर्च में फैल होना सीखा और वो तरीके खोजे जो मुझे नही करने चाहिए थे।”

सन्दीप की मेहनत और आत्मविश्वास ही था कि  12000 हजार से शुरू हुई इस कंपनी का टर्नओवर आज करोड़ो में पहुंच चुका है।

Story Of Sandeep gajakas in hindi
संदीप पर एक विचार – Motivational Hindi Thought 

जब आप अपने आप पर यकीन करने लगते हो

तो जीवन मे चमत्कार होने लगते है।

Motivational Story In Hindi For Success कैसी लगी और संदीप गजकस के स्टोरी को शेयर करे।

You May Also Like

About the Author: Knowledge Dabba

Hindi Knowledge About Science, Animals, History, Biography, Motivational Story.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *